शाहबेरी: निराश होम बायर्स बोले-'डाइनामाइट से बिल्डिंग संग हमें भी उड़ा दो'

प्रभाकर मिश्रा, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 अगस्त): देशभर में आज ईद का त्योहार का मनाया जा रहा है। इसके ठीक बाद देश स्वतंत्रता दिवस मनाने की तैयारी कर रहा है। देश भर में कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का जश्न मनाया जा रहा है। वहीं देश की राजधानी से सटे ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी के लोग मायूस हैं, गमजदा हैं। उन्हें उनके सिर से छत जाने का भय सता रहा है। प्रशासन ने शाहबेरी के बिल्डिंग्स को अवैध ठहराते हुए उन्हें गिरने का आदेश सुनाया है। सरकार के इस आदेश से वहां रहने वाले लोगों में भय है और सरकार और प्रशासन के खिलाफ गुस्सा है। 

शाहबेरी के बायर्स ने रविवार को सद्भावना यात्रा निकाली। शाहबेरी के लोगों का सवाल है कि जब ये अवैध बिल्डिंगें बन रहीं थीं तो अफसर कहां थे? जीवनभर की पूंजी घर खरीदने में लगा दी। अफसर अब बोलते हैं कि डायनामाइट से उड़ा देंगे। अगर सरकार न्याय नहीं कर सकती तो बिल्डिंगों के साथ हमें भी उड़ा दे, लेकिन यहां से हम हटेंगे नहीं। बायर्स ने कहा, अवैध निर्माण के दोषी बिल्डरों, अफसरों पर कार्रवाई हो और हमारे घर को वैध किया जाए।बायर्स ने कहा, अवैध निर्माण के दोषी बिल्डरों, अफसरों पर कार्रवाई हो और हमारे घर को वैध किया जाए। सद्भावना रैली शाहबेरी से सुबह करीब 10 बजे शुरू हुई और दोपहर करीब 1 बजे ग्रेनो अथॉरिटी कार्यालय के सामने खत्म हुई।

शाहबेरी संघर्ष समिति के लोगों ने कहा कि सीएम ने मीटिंग में बायर्स के हितों की रक्षा का आश्वासन दिया था। उनके कहने पर मंत्री सतीश महाना यहां आए तो अलग बातें कह रहे हैं। मंत्री ने सीएम की बात पर पानी फेरने का काम किया है। अगर अथॉरिटी ने बायर्स के खिलाफ कदम उठाया तो चुनाव में इसका खमियाजा भी बीजेपी को उठाना पड़ेगा। इस दौरान बीजेपी कार्यसमिति के सदस्य तेजा गुर्जर, अनिल चौधरी, मुकुल त्यागी, एसके उपाध्याय, विवेक कुमार, मयंक अग्रवाल आदि मौजूद रहे।