पहाड़ों की बर्फबारी ने दिल्ली में जमाई 'कुल्फी', भीषण शीत लहर की चपेट में 7 राज्य


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 दिसंबर): अगले 48 घंटे आधे हिंदुस्तान पर बहुत भारी साबित होने जा रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार पहाड़ों पर हुई जबरदस्त बर्फबारी के बाद, मैदानी इलाकों में शीतलहर, कहर बनकर टूट पड़ी है। दिल्ली का न्यूनतम तापमान इस वक्त शिमला से भी कम हो चुका है। देश के सात मैदानी राज्यों में ठंड का प्रकोप अपने चरम पर है। दिसंबर में पहाड़ से लेकर मैदान तक  भारी बर्फबारी और सर्दी का कोहराम मचा हुआ है।



इस वक्त 7 राज्यों में जबरदस्त शीतलहर चल रही है, जम्मू-कश्मीर में 40 दिनों की सबसे कठोर सर्दी चिलाई कलां की शुरुआत हो चुकी है। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में कई जगहों पर माइनस तापमान ने जिंदगी को जमाकर रख दिया है, जबकि दिल्ली का न्यूतम तापमान शिमला से भी नीचे पहुंच गया है। इस वक्त आधा हिंदुस्तान प्रचंड ठंड की चपेट में आ गया है। अगले 48 घंटे में जबरदस्त ठंड पड़ने वाली है। जिससे सावधान रहने की सख्त जरूरत है।



जम्मू-कश्मीर में भारी हिमपात और बारिश के बाद मौसम बेहद खराब हो गया है। जम्मू-कश्मीर में 40 दिनों की सबसे कठोर मानी जाने वाले सर्दियों का समय चिलाई कलां की शुरुआत हो चुकी है। डल-झील का आधे से ज्यादा हिस्साा जम गया है। झील में रहने वालों का जीवन मानों थम गया है। डल झील में जो सफर मिनटों का होता है वो घंटों में पूरा हो रहा है। झील पर जमी परत को तोड़ने में  काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। जम्मू-कश्मीर पर अगले 40 दिन बहुत भारी साबित होने जा रहे हैं। यहां इस वक्त जो सर्दी पड़ रही है। उसे चिलाई कलां के नाम से जाना जाता है और ये सर्दी अगले साल 31 जनवरी तक पड़ेगी।



मौसम विभाग के अनुसार अभी चार दिन तक ठंड और कोहरे से राहत के आसार नहीं है। उधर, पहाड़ों की सर्द हवाओं से न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। दिल्ली में गर्म कपड़े भी शरीर को गर्म नहीं रख पा रहे हैं। जगह-जगह अलाव ही ठंड से बचने का सहारा बना हुआ है। पहाड़ी राज्यों में भारी बर्फबारी के बाद पंजाब, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, मध्यप्रदेश, राजस्थान और गुजरात में शीत लहर चल रही है। उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में काली सड़क पर हल्की सफेद परत जमीं हुई है। यहां पूरे खेत में बर्फ जमी हुई देखी जा सकती है। इस बर्फ की वजह से फसलों को भारी नुकसान हुआ है।



उत्तर-भारत में शीत लहर के कहर ने आम-जनजीवन पर गहरा असर डाला है। दिसंबर की ठंड बड़ी तेजी से आम जन-जीवन पर अपना असर डाल रही है। क्रिसमस से पहले ठंड का इस तरह से यू-टर्न लेना मौसम विभाग को भी हैरान कर रहा है। पहाड़ से मैदान तक जिस तरह से पारा तेजी से गिरा है। उससे ऐसा लगने लगा है, कि आने वाले दिनों में ठंड का तांडव जबरदस्त होगा।