भारतीय पनडुब्बी का डाटा हुआ लीक, रक्षा मंत्री ने दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली (24 अगस्त): भारत को मिले 6 फ्रांसीसी सबमरीन स्कॉर्पीन से जुड़े सीक्रेट दस्तावेज लीक हो चुके हैं। ऑस्ट्रेलियन मीडिया के हवाले से खबर आई है कि फ्रांस की कंपनी DCNS की भारत में बनाई गई 6 स्कॉर्पीन पनडुब्बियों से जुड़े 22 हजार पन्नों के दस्तावेज लीक हो चुके हैं। 

दरअसल ये पूरा मामला ऑस्ट्रेलिया में एक बड़े डिफेंस कॉन्ट्रैक्ट से जुड़ा हुआ है। ऑस्ट्रेलिया के अरबों डॉलर का एक डिफेंस प्रोजेक्ट फ्रांस की कंपनी DCNS को मिला है। इसमें जापान और जर्मनी की कंपनियां फ्रांस से पिछड़ गईं। इसी कॉन्ट्रैक्ट के दौरान ये खबर आई कि भारत को दी गई पनडुब्बियों के टॉप सीक्रेट लीक हो चुके हैं। इस मामले पर रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने भी बयान दिया है। पर्रिकर ने कहा है कि इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है और जांच की रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा, मुझे रात के 12 बजे जानकारी मिली है, यह हैकिंग का मामला है। 'द ऑस्ट्रेलियन' में प्रकाशित खबर के अनुसार, भारतीय स्कॉर्पियन पनडुब्बियों के फ्रांसीसी निर्माता डीसीएनएस ने डिजायन प्लान से संबंधित जानकारी लीक की है। रिपोर्ट के मुताबिक, 2011 में डीसीएनएस के एक अधिकारी ने 22,000 पृष्ठों के प्लान को लीक कर दिया था। जिसने फ्रांसीसी कंपनी की दस्तावेजों को गोपनीय रखने की क्षमता पर सवाल खड़े कर दिए हैं। इन दस्तावेजों में स्कॉर्पियन से जुड़ी तमाम खुफिया जानकारियां सार्वजनिक हो गई हैं। इसमें हथियारों के डिटेल, क्रू मेंबर्स और पनडुब्बी  के रास्ते जैसी जानकारियां हैं।