सीनियर ने जूनियर डॉक्‍टर से कहा– मरीज को भर्ती कर लो, चाहे मार डालो

नई दिल्ली(11 अक्टूबर): आगरा में इंसानियत को शर्मसार करने देने वाला मामला सामने आया है। यहां के अस्पताल पर मरीज को जानबूझ कर मारने का आरोप लगा है। 

- ये मामला है आगरा के एस एन अस्पताल का। जहां तीमारदार ने मरीज को जानबूझ कर मारने का आरोप लगाया है। मामले में एक ऑडियो भी पुलिस को सौंपा है, जिसमें सीनियर डॉक्टर, जूनियर डॉक्टर से यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि मरीज को भर्ती कर लो, भले ही वह मर जाए या मार डालो चाहे।  पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

- दरसल आगरा के खंदारी निवासी टीकम के 18 वर्षीय पुत्र मुकेश को पेट में तकलीफ थी। कई साल से इलाज चल रहा था। शुक्रवार रात को पेट में दर्द होने पर परिजन उसे एसएन इमरजेंसी लेकर पहुंचे। 

- टीकम का आरोप है कि वे दर्द से कराहते अपने बेटे को लेकर 115 नंबर कमरे में पहुंचे। यहां से उन्हें मेडिसिन में ले जाने के लिए कहा। इसी दौरान उनके भतीजे किशन ने बोर्ड पर लिखे मोबाइल नंबर पर सर्जरी विभागाध्यक्ष डॉ. श्वेतांक प्रकाश को फोन मिला दिया।

- उन्होंने जूनियर डॉक्टर से बात कराने के लिए कहा। इस बातचीत में डॉ स्वेतांग मरीज को एडमिट कर मारने की बात कह रहे हैं।  इसके बाद मरीज को भर्ती कर लिया गया। यहां सुबह इंजेक्शन लगाने के बाद टीबी वार्ड में रेफर कर दिया। वहां, ऑक्सीजन लगा दी गई। कुछ देर बाद उसकी  मौत हो गई। जब ये मोबाइल रिकॉर्डिंग वायरल हुई तो हड़कंप मच गया। आनन् फानन में जिलाधिकारी ने मामले की जाँच सीएमओ को दे दी है और जाँच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कारवाई की बात कह रही है।