महिला डीएम के साथ सेल्फी खींचने पर नवयुवक को जाना पड़ा जेल

नई दिल्ली (5 फरवरी): उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में महिला जिलाधिकारी चंद्रकला के साथ सेल्फी लेना एक नवयुवक के लिए खासा महंगा पड़ गया। ऐसा करने पर 18 वर्षीय सिराज पर डीएम ने उसके खिलाफ केस कर दिया, जिसके चलते उसे जेल तक जाना पड़ा। 

रिपोर्ट के मुताबिक, डीएम का कहना है कि विशाखा क़ानून के तहत लड़के ने उनकी इजाज़त के बिना सेल्फ़ी लेकर अपराध किया। हालांकि बाद में मामले के तूल पकड़ने पर उन्होंने उसे माफ़ करने का एलान किया। इस मामले में डीएम ने गुरुवार को बैठक बुलाई, जिसमें लड़के द्वारा सेल्फी लेने की घोर निंदा की गई। 

बैठक के बाद जारी प्रेस नोट में कहा गया कि 'सेल्फी लेना तो दूर की बात है, किसी बाहरी आदमी को किसी महिला को देखने या घूरने का भी अधिकार नहीं। इस प्रकार की घटना किसी भी हालत में बर्दाश्त करने योग्य नहीं है। जिले के सहायक जिलाधिकारी विशाल सिंह कहते हैं, "सभी लोगों का 100 प्रतिशत यह मत है कि सेल्फी लेने का यह जो कार्यक्रम है, यह गलत है।"

इस घटना को लेकर सिराज के घर वाले खासे परेशान हैं। सिराज के पिता इमरान का कहना है, "हमारे लिए तो यही काफी है कि वह रिहा हो जाये और घर आ जाए।"