शहीदी दिवस को लेकर कश्मीर मेंं सुरक्षा कड़ी

नई दिल्ली (13 जुलाई): कश्मीर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सक्रियता और महबूबा मुफ्ती की अपील के बाद हालात सुधरते नज़र आ रहे हैं। हालांकि स्थिति अब भी तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बतायी जा रही है। पुलिस ने गांदरबल और बांदीपुरा से कर्फ्यू हटा लिया गया है। बाकी जगहों पर स्थिति पर नज़र रखी जा रही है। उधर, मीरवायज मौलाना फारुक की याद में मनाये जाने वाले विवादित शहीदी दिवस पर कश्मीर के सुरक्षा बलों को सतर्क रहने के निर्देश दिये गये हैं।

कुछ लोग मीर वाइज को अलगाववादी नेता मानते हैं। इसलिए उनकी याद में होने वाले कार्यक्रम का विरोध करते हैं तो कुछ लोग उनकी मज़ार पर जाकर दुआएँ पढ़ते हैं। मौजूदा हालात को देखते हुए कश्मीर पुलिस के 70,000 और सीआरपीएफ के 30,000  जवानों की तैनाती की गयी है। राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने लोगों से एक बार फिर शांति बनाए रखने की अपील की। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि सरकार परिस्थितियों की गंभीरता से मुंह मोड़ रही है औऱ कथित नॉरमल्सी लौटाने का ड्रामा कर रही है।