गुरुग्राम में SIS कंपनी के कर्मचारी ने कैशवैन से उड़ाए 1 करोड़ रुपए

 SIS

नई दिल्ली (25 नवंबर): दिल्ली-गुरुग्राम बार्डर स्थित एंबिएस मॉल में सिटी बैंक के एटीएम में पैसे डालने गया कर्मचारी शुक्रवार को अपने साथी कर्मचारियों को चकमा देकर एक करोड़ रुपये से भरा बैग लेकर फरार हो गया।पुलिस ने कंपनी के सुपरवाईजर की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं पुलिस ने आरोपी कर्मचारी के साथी साहिल को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पैसे लेकर भागा आरोपी रोहतक जिले का हेमंत है।

घटना शुक्रवार शाम 05:30 बजे की है। सिक्योरिटी एडं इटेलिजेंस (एसआईएस) कंपनी की कैश वैन सिटी बैंक के एटीएम में पैसे डालने के लिए गाड़ी नंबर डीएल-1 एलएस 8021 में चार लोग एंबियंस मॉल पहुंचे। वैन में एटीएम मशीन ऑपरेटर साहिल, उसके साथ बैग में कैश लेकर चलने वाला रोहतक के गांव ककराना निवासी हेमंत, एक सिक्योरिटी गार्ड व एक ड्राइवर थे। वैन को मॉल के बेसमेंट-1 में खड़ा कर दिया गया। ड्राइवर व सिक्योरिटी गार्ड यहीं पर रुक गए। जबकि हेमंत व साहिल कैश से भरा बैग लेकर चल दिए।

साहिल ने पुलिस को बताया कि हेमंत ने यहां से चलते ही बैग से पांच लाख निकालकर उसे दिए और कहा कि तुम जब तक ये एटीएम मशीन में डालो और मैं एक कॉल करके आता हूं। साहिल पांच लाख रुपये लेकर एटीएम मशीन में डालने के लिए चल दिया। लेकिन काफी देर बाद भी हेमंत एटीएम नहीं पहुंचा।तो साहिल ने हेमंत के मोबाइल पर फोन किया। लेकिन उसका मोबाइल स्विच ऑफ था। उसके बाद  साहिल ने अपने साथियों, कंपनी व पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। 

सूचना मिलने के बाद मौके पर डीसीपी ईस्ट कुलदीप सिंह यादव, एसीपी डीएलएफ अनिल यादव,डीएलएफ फेज-2 थाना एसएचओ सुदीप कुमार और क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी गई। 

एसआईएस कंपनी सुपरवाइजर विश्वजीत की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। सीसीटीवी फुटेज देख रहे है। हेंमत पैसे लेने के बाद कहा पर गया और कैसे गया। जांच चल  रही है। क्राइम ब्रांच भी मामले में जांच कर रही है -अनिल यादव,एसीपी डीएलएफ