SEBI, IT कर रहे 'टैक्स चोरों' की जांच


नई दिल्ली(12 जनवरी): शेयर बाजार की निगरानी करने वाला सेबी 14 जनवरी की बोर्ड मीटिंग में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस के दुरुपयोग और शेयरों की कीमत चढ़ाने-गिराने पर चर्चा करेगा। 8 नवंबर को 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को अवैध घोषित किए जाने के बाद यह सेबी की पहली बोर्ड मीटिंग होगी।


- एक वेबसाइट ने सूत्रों के हवाले से लिखा सेबी बोर्ड को इस मामले में की गई कार्रवाई के बारे में बताया जाएगा।


- लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस और शॉर्ट टर्म कैपिटल लॉस के जरिये टैक्स चोरी के मामले में 32,000 एंटिटी पर सेबी और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की नजर है।


- माना जा रहा है कि मार्केट रेग्युलेटर ने लिस्टेड कंपनियों के शेयर प्राइस में खेल करने वाली कंपनियों, उनके होलटाइम डायरेक्टरों और ऐसे ट्रेड में शामिल दूसरी एंटिटी के खिलाफ सेबी कानून के सेक्शन 11बी को लागू करने का फैसला किया है। इसके तहत सेबी के पास शेयर बाजार के हित में किसी एंटिटी या शख्स के खिलाफ आदेश देने का अधिकार है।


- इस धारा के तहत मार्केट रेग्युलेटर शेयरों में खरीद-फरोख्त से हुए फायदे को जब्त कर सकता है और वह ऐसे लोगों या एंटिटी के मार्केट में आने पर रोक लगा सकता है।