सपने में शिवलिंग देख खोद डाला हाईवे

हैदराबाद(7 जून): हैदराबाद के पास नैशनल हाइवे 163 को शिवलिंग तलाशने के लिए खोदा जा रहा था। खुदाई का काम जेसीबी मशीनों से किया गया, जिसमें स्थानीय लोगों से लेकर नेताओं तक का सपॉर्ट था। हैरानी की बात यह थी कि यह सब एक शख्स के कहने पर हो रहा था, जिसने सपने में इस जगह पर शिवलिंग देखे जाने का दावा किया था।

- यह घटना हैदराबाद से 80 किलोमीटर दूर तेलंगाना के जनगांव की है। इस प्रकरण से नैशनल हाइवे की दोनों ओर कम से कम एक किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया। यह हाइवे वारंगल से हैदराबाद को जोड़ता है। इसी हाइवे के बीचोंबीच 15 बटा 8 फीट का गड्ढा खोदा गया है।

- एक मीडिया रिपोर्ट में स्थानीय लोगों के हवाले से बताया गया कि लंबे समय से मनोज नाम का शख्स इस जगह पर खुदाई करने के लिए जोर डाल रहा था। उसने सपने में इस जगह शिवलिंग देखा था। हर बार जब भी वह सड़क के इस हिस्से में आया, वह बुरी तरह हिलने और लोटने लगता।

- पिछले तीन साल से वह शिवरात्रि के मौके पर इस जगह पर खुदाई के लिए जोर दे रहा था, मगर कोई उसका साथ नहीं दे रहा था। वह हर सोमवार हाइवे के किनारे पूजा करता था। आखिरकार गांववाले, स्थानीय नेता और सरपंच राजी हो गए और जेसीबी मशीनों की मदद से इस काम को अंजाम दिया गया। हालांकि शिवलिंग तब भी नहीं मिला।

- शुरुआत में मनोज ने कहा कि यह 10 फीट गहराई में है, मगर गड्ढा 15 फीट तक खोद डाला गया, फिर भी शिवलिंग नहीं मिला। तब एक स्थानीय पुलिसवाले को मनोज पर शक हुआ और पुलिस मनोज और एक लोकल नेता को वहां से पकड़कर ले गई। स्थानीय पुलिस इंस्पेक्टर के मुताबिक, हाइवे को नुकसान नहीं हुआ है। अवैध खुदाई का केस दर्ज किया गया है। हालांकि एफआईआर में किसी का नाम नहीं लिया गया है।

- लोगों को खुदाई से रोकने के लिए तैनात पुलिसवाले ने कहा कि मनोज ने पहले 10, फिर 15 फीट में शिवलिंग होने की बात कही और बाद में दो फीट और खुदाई करने को कहा। इस तरह तो सड़क पर कुआं बन जाता।