मार्च 2018 तक सील हो जाएगी पाकिस्तान सीमा, लगेगी 'स्मार्ट फेंस'

नई दिल्ली ( 3 अगस्त ): पाकिस्तान से सटी भारतीय सीमा को मार्च 2018 तक पूरी तरह से सील कर दिया जाएगा। बीएसएफ एक 'स्मार्ट फेन्स' तैयार करने जा रहा है जिसे भेदकर भारत में आना अब आसान नहीं होगा। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक के. के. शर्मा ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से सटी भारतीय सीमा को सील करना बड़ी ‘प्राथमिकता’ है और जम्मू सेक्टर में बेहतरीन प्रौद्योगिकी से बनी बाड़ अगले साल मार्च तक लगा दी जाएगी। बीएसएफ एक 'स्मार्ट फेन्स' तैयार करने जा रहा है जिसे भेदकर भारत में आना अब आसान नहीं होगा।

शर्मा ने यह भी कहा कि देश के संबंध अपने पूर्वी पड़ोसी बांग्लादेश से अभी ‘बहुत अच्छे’ हैं और भारत-बांग्लादेश सीमा को अभेद्य बनाने वाली योजना ‘संसाधनों’ के उपलब्ध होने के बाद लागू की जाएगी।

इस साल अक्तूबर में ‘शहीदों के लिए बीएसएफ हाफ मैराथन’ की घोषणा के लिए आयोजित कार्यक्रम के इतर शर्मा ने कहा, ‘मेरी प्राथमिकता पाकिस्तान है, क्योंकि यहां (भारत-पाक सीमा के पास) कुछ भी होता है, तो उसके गंभीर परिणाम होते हैं। हम यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहे हैं कि सीमा को पूरी तरह सील कर इसकी किलेबंदी कर दी जाए।’ उन्होंने कहा, ‘हम एक समग्र एकीकृत सीमा प्रबंधन (सीबीआईएम) योजना को लागू कर रहे हैं और पाकिस्तान से सटी अपनी अंतरराष्ट्रीय सीमा को सुरक्षित बनाने के लिए पायलट परियोजना चला रहे हैं।’ शर्मा ने कहा कि यह परियोजना अंतरराष्ट्रीय सीमा के जम्मू सेक्टर में अगले साल मार्च तक पूरी हो जाएगी।

यह पूछे जाने पर कि क्या 4,096 किलोमीटर लंबी भारत-बांग्लादेश सीमा के लिए भी कोई योजना है, महानिदेशक ने जवाब दिया, ‘यह प्राथमिकता का सवाल है।’ महानिदेशक ने कहा कि दोनों देशों के बीच अच्छे संबंध हैं।