SCO Summit: 7 बार आए एक दूसरे के आमने-सामने, आखिरकार मोदी-इमरान में हुई दुआ-सलाम

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (14 जून): बिश्केक में SCO समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से दूरी बनाए हुए थे। अब यह खबर आ रही है कि दोनों नेताओं ने एक-दूसके का अभिनंदन किया है। इसके पहले दोनों देश प्रमुख 7 बार एक दूसरे के आमने-सामने आ चुके हैं। आधिकारिक सूत्रों ने यह बताया कि यहां शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के आयोजन स्थल पर नेताओं के लाउंज में पीएम मोदी और इमरान खान ने एक दूसरे का अभिवादन किया। मोदी और खान दोनों यहां एससीओ के वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आए हैं।

किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरोनबे जेनेबकोव की ओर आयोजित बुधवार को रात्रिभोज में भी पीएम मोदी और इमरान खान आमने-सामने पड़े थे। इसके अलावा शुक्रवार को 5 बार मोदी और इमरान खान एक-दूसरे से मिले। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पीएम मोदी और इमरान खाने के मुलाकात की पुष्टि की है।

भारत पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की हर संभव कोशिश कर रहा है। भारत पहले ही कह चुका है कि जब तक पाकिस्तान की ओर आतंकवादी गतिविधियों को रोकने पर पहल नहीं की जाती, भारत सीधे तौर पर पाकिस्तान के साथ कोई बातचीत नहीं करेगा। पुलवामा हमले के बाद से ही लगातार यही स्थिति बनी हई है।

एससीओ समिट के दौरान भारत के आतंकवाद विरोधी अभियान को बड़ी सफलता मिली है। शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) के सभी सदस्य देशों की तरफ से घोषणापत्र जारी किया गया है, जिसमें आतंकवाद को भी मुद्दा बनाया गया है। भारत की तरफ से बार-बार उठाए जाने वाले सीमा पार आतंकवाद को भी इस घोषणा पत्र में जगह दी गई है।

इससे पहले पीएम मोदी ने एससीओ समिट में आतंकवाद के खिलाफ जोरदार वार किया है। उन्होंने सदस्य देशों से आतंकवाद को समर्थन देने वाले राष्ट्रों के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया। साफ है कि आतंकवाद का समर्थन करने वाले राष्ट्रों की बात कर पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष तौर पर पाकिस्तान को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, 'आतंकवाद को समर्थन, प्रोत्साहन और आर्थिक मदद देने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। एससीओ सदस्यों को आतंकवाद के सफाये के लिए एक साथ आकर काम करना चाहिए।'