कजाकिस्तान में नवाज शरीफ से नहीं मिलेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली (5 जून): शंघाई को-ऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन यानी SCO की मीटिंग 12-13 जून को कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में होने जा रही है। इस मीटिंग में तमाम सदस्य देशों के साथ-साथ पर्यवेक्षक देश भी शामिल हो रहे हैं और संभावना जाताई जा रही है। छह सदस्यीय SCO की बैठक में भारत और पाकिस्तान को शामिल किया जा सकता है। फिलहाल SCO में चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, ताजकिस्तान और उजबेकिस्तान पूर्ण सदस्य के तौर पर शामिल हैं। जबकि अफगानिस्तान, बेलारूस, भारत, ईरान, मंगोलिया और पाकिस्तान को पर्यवेक्षक का दर्जा हासिल है।

भारत की ओर से इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी हिस्सा लेंगे जबकि पाकिस्तान की ओर से बैठक में नवाज शरीफ भी हिस्सा लेंगे। लेकिन मिल रही खबरों के मुताबिक भारत में पाकिस्तान से साफ कर दिया है कि अस्ताना में पीएम मोदी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मुलाकात नहीं करेंगे। भारत का कहना है कि जबतक पाकिस्तान हिंदुस्तान के खिलाफ साजिश और नापाक हरकतें बंद नहीं करता भारत पाकिस्तान के साथ किसी भी सूरत में अपने रिश्ते को सामान्य नहीं कर सकता है। भारत का साफ कहना है कि आतंकवाद और बातचीत दोनों साथ-साथ नहीं चल सकता।

हालांकि पाकिस्तान चाहता है कि SCO की मीटिंग में किसी भी तरह नवाज शरीफ की पीएम मोदी से मुलाकात हो जाए। लेकिन भारत अपने पहले के रूख पर अडिग है।