चंपारण: स्कूल की छत गिरी , एक बच्चे की मौत और एक दर्जन से अधिक घायल

न्यूज 24 ब्यूरो, अमिताभ ओझा, पटना (25 सितंबर): बेतिया चर्च रोड स्थित संत स्तानिसलौस मिशन मिडल स्कूल मे पढ़ रहे क्लॉस एक के बच्चे के ऊपर अचानक विधालय का छत गिर गई। जिससे एक दर्जन से अधिक मासूम बच्चे घायल हुए, वहीं एक बच्चे की मौत भी हो गई। मृतक बच्चे के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाला है। घटना के बाद स्कूल कैंपस मे अफरातफरी का माहौल है। अचानक विधालय के भवन गिरने से विधालय में पढ़ रहे बच्चों के अभिभावक स्कूल की तरफ दौड़े।हर साल रिएडमिशन और मेंटेन्नेस के रूप में विधालय बच्चों के अभिभावकों से लाखों रुपया की उगाही कर रहा है। अगर उस पैसे से होता विधालय का मेंटेनेंस होता तो ये हादसा नहीं होता। घटना की सूचना मिलते ही एनडीआरएफ की टीम भी पहुंग गई और राहत कार्यों में लग गई। वहीं इस मामले में विधालय के प्रिंसिपल फादर जोटीन का कहना है कि तीन बच्चे घायल है। उन्होंने कहा कि विधालय का भवन पहले से जर्जर नहीं था अचानक गिर गया। विधालय में 200 से 300 बच्चे है।इस संबंध में बेतिया पुलिस अधीक्षक जयंतकान्त ने बताया कि विधालय प्रशासन ने साक्ष्य छुपाने की कोशिश की है। उन्होंने बताया की एक बच्चे की मौत हो गई है, साथ ही एक दर्जन से अधिक बच्चे घायल है। स्कूल प्रशासन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। इस मामले मे घटना की सूचना मिलते ही चंपारण के जिला पदाधिकारी डॉ नीलेश रामचन्द्र देवरे घटनास्थल पर पहुंचे ।डीएम ने बताया कि तीन इंजीनियरों की टीम को भवन के मुआयना के लिए भेजा जाएगा। बिहार नगर बिल्डिंग अधिनियम के तहत विधालय के भवन की जांच कर बिल्डिंग को तोड़ा जाएगा। वहीं इस मामले में विधालय में पढ़ रहे अभिभावकों का कहना है कि विधालय प्रशासन हर साल यहां पढ़ रहे बच्चों के अभिभावकों से लाखों रुपये की उगाही करती हैं मेंटेनेंस के नाम पर पर मेंटेनेंस नहीं करती है।