2002 हिट एंड रन केस में बढ़ी सलमान की परेशानी, SC में होगी सुनवाई

नई दिल्ली (4 अप्रैल): साल 2002 के हिट एंड रन केस में सलमान की परेशानी बढ़ती नजर आ रही है। बाम्बे हाईकोर्ट द्वारा बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ दायर पिटिशन पर सुप्रीम कोर्ट अगले हफ्ते सुनवाई करेगा।

सलमान खान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में यह पिटिशन परमानंद कटारा नाम के वकील ने दाखिल की है। इसमें इन्होंने कहा है कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने कानून के बिना ही अपील सुनी और अपने फैसले में उन्हें बरी कर दिया।

कटारा ने अपने पिटिशन में कहा है कि सीआरपीसी के सेक्शन 374 के मुताबिक ट्रायल कोर्ट से मिली सात साल से कम की सजा पर हाईकोर्ट में अपील नहीं रिवीजन होता है। इसलिए हाईकोर्ट के फैसले को रद्द कर मामले की दोबारा सुनवाई की जानी चाहिए।

गौर हो कि फरवरी सुप्रीम कोर्ट ने ही एक याचिका की सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट द्वारा सलमान खान को बरी किए जाने को सही ठहराया था। इसमे सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि बिना फैसले के किसी को जेल नहीं भेजा जा सकता। 

गौरतलब है कि इससे पहले बॉम्बे हाईकोर्ट ने सलमान को 2002 के हिट एंड रन केस में बरी कर दिया था। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा था कि अभियोजन पक्ष इस बात की पुष्टि करने में नाकाम रहा कि सलमान ने शराब पी थी और हादसे के वक्त वे ही गाड़ी चला रहे थे। साथ ही कोर्ट ने कहा था कि मौजूदा सबूतों के आधार पर सलमान को सजा संभव नहीं है।