पिन चोरी को लेकर उड़ रही है यह अफवाह, एसबीआई ने जारी किया अलर्ट

नई दिल्ली ( 27 अक्टूबर) : भारतीय स्‍टेट बैंक आॅफ इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए अलर्ट जारी किया है। एसबीआई की ओर से जारी किए गए अलर्ट में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर एक लिस्‍ट सर्कुलेट हो रही है। दावा किया जा रहा है कि इस लिस्‍ट में ऐसे डेबिट कार्ड की डिटेल है जिनके डाटा चोरी हो गए हैं। एसबीआई का कहना है कि यह लिस्‍ट एसबीआई के ग्राहकों की नहीं है, हम इस बात की पुष्टि करते हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर सर्कुलेट को रही लिस्‍ट को गंभीरत से लेने की जरूरत नहीं है।

एसबीआई ग्राहकों से पिन या ओटीपी नहीं मांगता  इसके अलावा एसबीआई ने हाल में हुए साइबर हमले के मद्दनेजर अपने ग्राहकों को सतर्क रहने की सलाह देते हुए कहा है कि एसबीआई अपने ग्राहकों से गोपनीय जानकारी जैसे पिन नंबर या ओटीपी नहीं मांगता है। ऐसे में अगर कोई आपसे इस तरह की जानकारी मांगता है तो आप सतर्क हो जाएं। एसबीआई की ओर से कहा गया है कि ऐसी कॉल धोखाधड़ी करने वाले करते हैं। ऐसे में आप किसी से भी और किसी भी परिस्थिति में गोपनीय जानकारी जैसे पिन नंबर या ओटीपी साझा न करें।

एसबीआई के 65 लाख से अधिक डेबिट कार्ड का डाटा चोरी होने का शक एसबीआई के 32 लाख से अधिक डेबिट कार्ड का डाटा चोरी होने का शक है। वहीं खबरों की मानें, तो इस संख्‍या को 65 लाख तक बताया जा रहा है।  वित्‍त मंत्रालय ने रिजर्व बैंक से मामले की विस्‍तृत रिपोर्ट मांगी है। रिजर्व बैंक इस मामले की जांच कर रहा है और 15 नवंबर तक सरकार को इस पर रिपोर्ट देगा। सरकारी हलकों में इस बात पर चिंता जताई जा रही है कि बैंकों को पहले ही संभावित साइबर हमले के लिए अलर्ट किया गया था। लेकिन बैंकों ने कोई एहतियाती उपाय नहीं किए थे। माना जा रहा है कि रिजर्व बैंक जांच के बाद लापरवाही पाए जाने पर बैंकों पर जुर्माना भी लगा सकता है।