BREAKING: कैश ट्रांजेक्शन चार्ज और मिनिमम बैलेंस बढ़ाने पर अड़ा SBI

नई दिल्ली (8 मार्च): मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर जुर्माना और कैश ट्रांजेक्शन चार्ज में बढ़ोतरी पर बैंक अड़ा हुआ है। इस मामले में बैंकों पर सरकार की अपील का भी कोई असर पड़ता नहीं दिख रहा है। SBI ने खातों की मेंटेनेंस खर्च की दलील देकर चार्ज वसूली को सही ठहराया है। अभी हाल ही में एसबीआई ने न्यूनतम बैलेंस 1000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रुपये कर दिया है।

वहीं SBI ATM से 4 बार से ज्यादा ट्रांजैक्शन करने पर अब SBI भी चार्ज वसूलेगा। SBI की चैयरमैन अरुणधति भट्टाचार्य ने बताया है कि ये चार्ज ATM, कैश खातों को मेंटेन के करने के लिए ये चार्ज जरूरी है। उन्होंने खातों में मिनिमम बैलेंश पर बात करते हुए कहा कि अकाउंट को मैनेज करने के लिए चार्ज जरूरी है, ज्यादातर अकाउंट में 5000 रुपये का बैलेंस आम बात है, मिनिमम बैलेंस पर चार्ज लगने से परेशानी नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि आज के समय SBI के ऊपर काफी ज्यादा बोझ है, बैंक को 11 करोड़ जनधन अकाउंट भी देखने हैं और ये सब मैनेज करने के लिए चार्जेज की जरूरत होती है तो SBI ने जो चार्ज लगाए हैं वो वाजिब ही हैं।