अखिलेश ने कहा- अमर सिंह तोड़ना चाहते हैं हमारा घर

लखनऊ (23 अक्टूबर): लगता है समाजवादी में जल्द ही फाड़ होकर दो पार्टियां बन सकती है। चाचा और भतीजे के बीच घमासान इस मुकाम पर पहुंच गया कि अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल को कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

अखिलेश ने शिवपाल के अलावा चार अन्य मंत्रियों को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया। एसपी नेता अमर सिंह की करीबी माने जाने वाली जया प्रदा से भी पद छीन लिया गया। सूत्रों के मुताबिक, अखिलेश अमर सिंह से बेहद खफा हैं। अखिलेश की मीटिंग में मौजूद 183 विधायकों ने अखिलेश में भरोसा जताया। मीटिंग में अखिलेश के समर्थन में एक प्रस्ताव भी पास हुआ।

अमर सिंह पर जमकर बरसे
मीटिंग में अखिलेश ने कहा, 'मेरे घर में आग अमर सिंह ने लगाई है। मैं उन पर कार्रवाई करूंगा। पार्टी में विवाद करने वालों को नहीं रहने दिया जाएगा। अमर सिंह हमारा घर तोड़ना चाहते हैं। अमर सिंह के साथी हमारे साथ नहीं रह सकते। मैं ही नेताजी का उत्तराधिकारी हूं। पार्टी नेता जी की है, वह फैसला करें।'

अखिलेश के समर्थन में आजम
कैबिनेट मंत्री और सीनियर एसपी नेता आजम खान भी अखिलेश के समर्थन में नजर आए। आजम के मुताबिक, यह मुख्यमंत्री का अधिकार है कि वह किसे कैबिनेट में रखे और किसे नहीं। बिना नाम लिए अमर सिंह पर हमला बोलते हुए आजम ने कहा, 'हम काफी दिनों से महसूस कर रहे थे कि एक शख्स से पार्टी का नुकसान होगा एक दिन।'