'सऊदी अरब के जॉब पोर्टल बेरोज़गारों को कर रहे हैं गुमराह'

नई दिल्ली (11 मार्च): क्या ऑन लाइन पोर्टल सऊदी अरब में नौकरियों के नाम पर एशिया और अन्य देशों के युवाओँ को भ्रमित कर रहे हैं ? 'गल्फ न्यूज़ डॉट कॉम' में छपी रिपोर्ट तो लगभग ऐसे ही संकेत दे रही है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आर्थिक मंदी के दौर से गुज़र रहे अरब देशों में बढ़िया सैलरी के साथ नौकरी शायद अब सपना बनने वाला है।

सऊदी के कुछ प्राइवेट संस्थानों ने 5 से 8 प्रतिशत और कुछ ने 15-20 प्रतिशत सैलरी इनक्रीमेंट का दावा किया है। इन दावों की पोल खोलते हुए 'गल्फ न्यूज़ डॉट कॉम' की रिपोर्ट ने कहा कि जब सरकार आर्थिक मंदी के दौर से गुज़र रही है उससे निजी संस्थान कैसे अछूते रह सकते हैं। रिपोर्ट ने उन सभी ऑन लाइन जॉब पोर्टल्स को अपने गिरहबान में झाकने को कहा है जो बड़े-बड़े दावे और वादे कर रहे हैं।