सऊदी का ये दबंग प्रिस बना नया तानाशाह !

रियाद (10 नवंबर): इन दिनों सऊदी अरब के शाही परिवार में जबरदस्त उठा-पटक चल रही है। यहां भ्रष्टाचार विरोधी अभियान में अबतक 201 लोगों को हिरासत में लिया गया है। सऊदी के भावी शाह मोहम्मद बिन सलामन द्वारा छेड़े गए इस अभियान में देश के 11 राजकुमारों समेत शीर्ष अधिकारियों और पूर्व मंत्रियों पर भी शिकंजा कसा है। 

बताया जा रहा है कि 32 साल का ये शहज़ादा सऊदी हुकूमत के सबसे ताकतवर शख्सियत के तौर पर उभर कर सामने आया है। जानकारों के मुताबिक वह दिन बहुत दूर नहीं है जब उन्हें सऊदी अरब का सुल्तान बना दिया जाएगा। किंग सलमान कमज़ोर और बीमार हैं, वो कभी भी ताज छोड़ सकते हैं। वो कभी भी क्राउन प्रिंस सलमान को किंग बनाने की घोषणा कर सकते हैं।

जानकारों के मुताबिक अभी भी क्राउन प्रिंस ही वास्तव में मुल्क चला रहे हैं। मुहम्मद बिन सलमान का जन्म 31 अगस्त 1985 को हुआ था और वह किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज अल-सऊद की तीसरी पत्नी फहदा बिन फलाह के सबसे बड़े बेटे हैं। रियाद स्थित किंग सऊद यूनिवर्सिटी से स्नातक की डिग्री हासिल करने के बाद प्रिंस मोहम्मद सलमान ने कई सरकारी महकमों में काम किया। किंग सलमान ने 2015 में सत्ता संभालते ही दो अहम बदलाव किए थे और अपने बेटे को सत्ता के और करीब कर दिया था। उस वक्त शहज़ादा सलमान केवल 29 वर्ष की आयु में दुनिया के सबसे कम उम्र के रक्षा मंत्री बन गए थे।