'कतर से भड़की जंग की चिंगारी पूरे सऊदी अरब को तबाह कर देगी'

नई दिल्ली (28 जुलाई): मोरक्को के एक प्रसिद्ध खगोलशास्त्री अली अब्दुर्रहमान अल-ईस ने मध्यपूर्व में एक भयानक युद्ध की भविष्यवाणी करते हुए कहा है कि इस युद्ध की चिंगारी क़तर से भड़केगी। अल-ईस के मुताबिक़, फ़ार्स खाड़ी के अरब देशों के बीच जारी तनाव के कारण, इस इलाक़े में एक भयान युद्ध की शुरूआत होगी, जो पूरे सऊदी अरब को अपनी चपेट में ले लेगा। मोरक्को के इस खगोलशास्त्री ने सीरिया संकट के बारे में कहा है कि सीरिया में जारी युद्ध, बशार असद की जीत के साथ समाप्त हो जाएगा।

अली अब्दुर्रहमान अल-ईस का कहना है कि क़तर से उठने वाली युद्ध की चिंगारी सऊदी अरब को गृह युद्ध में झोंक देगी और अचानक लोग आतंकवादियों को सऊदी अरब की सड़कों पर गश्त करते हुए देखेंगे। सीरिया के बारे में उन्होंने कहा, सीरिया संकट का समाधान सर्दियों के मौसम से शुरू हो जाएगा और इस देश में खेल और कला युद्ध का स्थान ले लेंगे। ग़ौरतलब है कि सऊदी अरब, यूएई, बहरैन और मिस्र ने क़तर पर आतंकवाद के समर्थन का आरोप लगाते हुए उसकी घेराबंदी कर रखी है और इस घेराबंदी को हटाने के लिए उसके सामने कुछ कठोर शर्तें रखी हैं, हालांकि क़तर ने इन शर्तों को मानने से इनकार कर दिया है।