ट्रंप को खुश करने के लिए सऊदी शाह ने किये कई बदलाव, बेटे को अमेरिकी दूत बनाया

नई दिल्ली (23 अप्रैल):अपने चिर प्रतिद्वंदी ईरान के खिलाफ अमेरिका को मदद करने और यमन में जारी युद्ध में अमेरिकी समर्थन को जारी रखने के लिए  सऊदी अरब के शाह सलमान ने कई बड़े फेरबदल किये हैं। शाह सलमान ने अमेरिका में अब तक के राजदूत युवराज अब्दुल्ला बिन फैसल बिन तुर्की को बर्खास्त कर अपने बेटे वायु सेना पायलट खालिद बिन सलमान बिन अब्दुल अजीज को  राजदूत नियुक्त किया गया है।  कूटनीतिक मोर्चे पर यह फेरबदल तब हुआ जब सऊदी अरब के शाह सलमान ने एक के बाद एक कई आदेश जारी किये। 


उन्होंने अपने मंत्रिमंडल में व्यापक फेरबदल किया और सेना प्रमुख की जगह नई नियुक्ति की। समीपवर्ती यमन में सऊदी अरब की सेना दो बरस से विद्रोहियों से लड़ रही है। दोनों देशों के बीच रिश्ते करीब एक दशक से हैं लेकिन पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल के दौरान इन रिश्तों में ठहराव आया था क्योंकि सऊदी नेताओं को लगता था कि ओबामा सीरिया में जारी गृह युद्ध में शामिल होना नहीं चाहते बल्कि उनका ध्यान रियाद के क्षेत्रीय प्रतिद्वन्द्वी ईरान की ओर है। जनवरी में सत्ता में आए ट्रंप प्रशासन में सऊदी अरब को सकारात्मक संकेत महसूस हो रहे हैं। ट्रंप ने पश्चिम एशिया में ईरान के ''नुकसानदायक प्रभाव'' की आलोचना की है।