एक अमेरिकी अखबार ने लिखा- 9/11 के हमले में था सऊदी अरब का हाथ !

नई दिल्ली (11 सितंबर): अमेरिका के न्यूयॉर्क पोस्ट नामके एक अखबार ने लिखा है कि अगर आतंकियों को सऊदी अरब ने सपोर्ट न किया होता तो अमेरिका में 9/11 को आतंकी हमला नहीं होता। न्यूयॉर्क पोस्ट ने 11 सितंबर की घटना में सऊदी अरब के दूतावास की भूमिका के बारे में नये दस्तावेज़ों का रहस्योद्धाटन किया है।

न्यूयार्क पोस्ट नामक पत्रिका ने ग्यारह सितंबर की घटना की 17वीं बरसी के अवसर पर लिखा है कि नये दस्तावेज़ों से पता चलता है कि अमरीका में सऊदी अरब के दूतावास ने हवाई जहाज़ों के हाईजैक के ट्रायल में वित्तीय सहायता की थी और यह ट्रायल इसी दूतावास के दो कर्मियों ने अंजाम दिया था। ग्यारह सिंतबर की घटना से दो वर्ष पहले हाईजैक का ट्राएल किया गया था और सऊदी दूतावास के दो कर्मियों ने इस योजना को छात्रों की आड़ में अंजाम दिया। ग्यारह सितंबर के हमले के बारे में पूर्व की रिपोर्ट से 28 पृष्ठ निकाल दिए गये हैं जिनमें ग्यारह सितंबर की घटना के बारे में सऊदी अरब की भूमिका की ओर संकेत किया गया है। इससे पता चलता है कि वाशिंग्टन  इस हमले में सऊदी अरब की भूमिका को छिपाने के प्रयास में है।