महिलाओं के ड्राइविंग लाइसेंस से 90 अरब डॉलर कमाएगा सऊदी अरब

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 जून): सऊदी अरब में रविवार से महिलाओं को आधिकारिक तौर पर सड़कों पर ड्राइविंग करने (गाड़ी चलाने) की इजाजत मिल गई है। सऊदी की महिलाएं भी अब सड़कों पर गाड़ी चला सकेंगी। इसके साथ ही सऊदी अरब महिलाओं के गाड़ी चलाने पर लगे प्रतिबंध को हटाने वाला दुनिया का आखिरी देश बन गया है। आपको बता दें कि सऊदी अरब दुनिया का एकलौता देश था जहां महिलाएं के ड्राइविंग करने पर प्रतिबंघ था।बीते साल सितंबर में किंग सलमान ने अपने बेटे मोहम्मद बिन सलमान द्वारा सुधारों को लागू किए जाने के बाद महिलाओं के ड्राइविंग पर लगे बैन को हटाने का आदेश दिया था। इन सुधारों के जरिए सऊदी अपनी अर्थव्यवस्था में बदलाव लाना चाहता है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, इस फैसले से 2030 तक सऊदी 90 अरब डॉलर से ज्यादा कमा सकता है जबकि सऊदी अरबियन ऑयल कॉर्पोरेशन के 5 प्रतिशत के शेयर बेचने से सऊदी अरब को करीब 100 अरब डॉलर की कमाई होगी।सरकार के इस फैसले के बाद रविवार को महिलाएं व्यस्त सड़क पर वाहन चलाती नजर आईं। रियाद में गाड़ियों के काफिले के साथ भी महिलाएं देखी गईं। इस फैसले के साथ ही दुनिया में अब ऐसा कोई देश नहीं बचा है, जहां महिलाओं की ड्राइविंग पर रोक हो। दुबई में रहने वाले और ब्लूमबर्ग में मध्य पूर्व के चीफ अर्थशास्त्री के रूप में काम करने वाले जियाद दाऊद ने इस पर बताया, 'ड्राइविंग से बैन हटाने पर नौकरी करने वाली महिलाओं की संख्या में वृद्धि के आसार हैं, इससे पेशेवरों की संख्या बढ़ेंगी और यह कुल आय में वृद्धि करेगा।'