'सऊदी अरब में 14 कैदियों को फांसी देने की तैयारी'

नई दिल्ली (25 जुलाई): सऊदी अरब में मौत की सजा आम है। यहां दुनियाभर में सबसे ज्यादा मौत की सजा दी जाती है। इस साल यहां अबतक 66 लोगों को मौत की सजा दी जा चुकी है। जबकि 14 लोगों को कभी भी सजा-ए-मौत दी जा सकती है। इन सभी लोगों को हिंसा, चोरी समेत कई संगीन आरोप है। इन सभी 14 लोगों को सऊदी कोर्ट से मौत की सजा सुनाई जा चुकी है और बताया जा रहा है कि उनके फांसी की अर्जी पर किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज के दस्तख्त होते ही फांसी दे दी जाएगी।

इन सबके बीच ब्रिटेन के सांसदों के एक समूह ने प्रधानमंत्री थेरेसा मे को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वे 14 सऊदी कैदियों के मामले में हस्तक्षेप करें, जिन्‍हें जल्‍द ही फांसी दी जानी है। इसके साथ ही सांसदों ने प्रधानमंत्री से कहा है कि आप यह सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाते हैं कि ब्रिटेन की सहायता ने सऊदी अरब के एंटी-साइबर अपराध कानून के तहत इन लोगों की सजा में कोई भूमिका नहीं निभाई है। मानव अधिकार वॉच और एएमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा कि इन सभी को कड़ी यातनाएं देकर जुर्म कबूल कराया गया है।