संजू के ट्रेलर से खुले मुन्ना भाई के 5 राज, जानिए

मुंबई ( 30 मई ): संजू महज़ एक फिल्म नहीं, बल्कि संजय दत्त की ज़िंदगी की वो कहानी है जो बॉलीवुड के इस बैड ब्वॉय और उसके चंद दोस्तों के अलावा कोई और नहीं जानता। अब जब ये कहानी परत दर परत सबके सामने आ रही है तो सब चौंक रहे हैं। देखकर दहल रहे हैं कि एक शख़्स अपनी ज़िंदगी में ऐसे मुकामों से कैसे गुज़र सकता है। संजय की जिंदगी के कई राज खुल गए हैं।पहला राज 

संजू के ट्रेलर पर - जो बात सबसे ज़्यादा अपनी ओर खींचती है। वो ये कि 308 गर्लफ्रैंड्स के बाद संजय दत्त ने अपने गर्लफ्रैंड्स की गिनती भी करनी बंद कर दी..या साफ़-साफ़ कहें.. तो जिन लड़कियों के साथ - संजय दत्त के रिश्ते रहे - उनकी तादाद - 350 है... और इसमें प्रॉस्टीट्यूट्स शामिल नहीं है। ये संजू की ज़िंदगी से जुड़ा वो सच है जिसे दिखाने और बताने में - डायरेक्टर राजकुमार हिरानी भी हिचक रहे हैं।संजय दत्त ने अपनी ज़िंदगी में तीन शादियां  की - पहली शादी ऋचा शर्मा से, जिनसे उनकी बेटी त्रिशाला है... ऋचा की ब्रेन ट्यूमर से डेथ हुई थी।दूसरी शादी - मॉडल - ऋया पिल्लै से, जिससे चंद सालों में ही संजू का डिवोर्स हो गया था। और तीसरी शादी - मान्यता के साथ... जिसने खूब सुर्ख़ियां बटोंरी। लेकिन इन सबके अलावा संजय दत्त की ज़िंदगी के दो अफेयर्स दुनिया के सामने आएं। एक माधुरी दीक्षित के साथ और दूसरा - टीना मुनीम के साथ। ना माधुरी और ना ही टीना मुनीम ने इस रिश्ते को कभी दुनिया के सामने माना । लेकिन संजू में 308 गर्लफ्रैंड्स का सच - एक धमाके जैसा है। सोनम कपूर फिल्म में संजय दत्त की गर्लफ्रैंड का कैरेक्टर प्ले कर रही हैं। जिसकी किसी और के साथ शादी हो चुकी है।  लेकिन बावजूद वो संजू के साथ रिश्ते में हैं...। और अपने ड्रग्स की लत के लिए संजू - इस गर्लफ्रैंड का मंगलसूत्र तक बेच देते हैं। सोनम किस एक्ट्रेस का कैरेक्टर प्ले कर रही हैं.. ज़ाहिर है ये खुलासा - एक बड़ा स्कैंडल ला सकता है। नतीजा - सोनम के किरदार के नाम पर सब चुप्पी साध रहे हैंय़दूसरा राज- 

संजू के ट्रेलर का एक दूसरा बड़ा राज़ है जहां जेल के अंदर दाखिल होते - संजय दत्त के सारे कपड़े उतरवाकर - उनकी तलाशी ली जाती है। ये तलाशी.2007 में ली गई थी तब संजय दत्त - दुश्मन, वास्तव, कांटे और यहां तक की मुन्नाभाई भी बन चुके थे। जेल में संजय दत्त की ज़िंदगी मुश्किल थी लेकिन ये पहली बार सामने आया है कि जब टाडा कोर्ट ने संजय दत्त को टेरेरिस्ट के चार्जेज़ से तो आज़ाद कर दिया... लेकिन अवैध हथियारों को रखने के लिए 6 साल की सज़ा सुना दी....। तब पहले संजय को मुंबई के आर्थर रोड जेल में रखा गया था और फिर उन्हे पूणे की येरवडा जेल में ट्रांसफर कर दिया गया था । इस सीन को निभाना रणबीर कपूर के लिए भी बेहद मुश्किल था लेकिन ये संजय दत्त की ज़िंदगी से जुड़ा हुआ एक ऐसा चैप्टर था, जिसे राजकुमार हिरानी हर हाल में सुनाना चाहते थे।

तीसरा राज

संजू के ट्रेलर में तीसरा राज़ है... वो सीन, जब संजय अपनी गलती तो मानते हैं लेकिन खुद को टेरेरिस्ट मानने से इनकार कर देते हैं। अंडरवर्ल्ड के साथ संजय दत्त की यारी। हथियार रखना और 93 के मुंबई बम ब्लास्ट से अपना नाम जुड़ना। संजय दत्त की ज़िंदगी का ये चैप्टर - इस कहानी का अहम हिस्सा है जिसमें उनके उपर - बम ब्लास्ट की जानकारी होने और टेरेरिस्ट होना का इल्ज़ाम लगा। संजय दत्त पर आरोप था कि वो इस बमकांड की साजिशों में शामिल हैं.इल्ज़ाम था कि धमाकों को अंजाम देने के लिए गोला-बारुद की जिस खेप को मुंबई में उतारा गया था, उसी खेप में से संजय दत्त को भी हथियार मिले थे। तब इस ख़लनायक की कहानी  खलनायक जिसकी कहानी हर किसी की जुंबा पर थी। बिल्कुल इसी तरह से संजय दत्त जब मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचे, तो वहां उन्हे रिसीव करने कोई घरवाला नहीं, बल्कि पुलिस आई थी। मॉरिशस से फ़िल्म शूटिंग ख़त्म करके लौटे संजू को जब 19 अप्रैल 1993 को एयरपोर्ट पर ही हज़ारों पुलिस वालों के बीच गिरफ्तार किया गया और जेल भेज दिया गया। और इसके बाद संजय दत्त को क्राइम ब्रांच में पूछताछ की शुरुआत का ही - वो थप्पड़...पुलिस, कोर्ट-कचहरी और जेल जाने की बातें से जुदा... ये वो वाकए हैं.. जिन्हे संजय दत्त के अलावा अब तक कोई और नहीं जानता था..।चौथा राज

संजू के ट्रेलर में ये राज़ भी खोल दिया गया है कि संजय दत्त ने ड्रग्स की शुरुआत कैसे की थी । ये संजू की ज़िंदगी का वो चैप्टर है, जिसके बारे में खुद संजय दत्त ने कई बार बताया है। अपने बेटे को यूं ड्रग्स के फेर में पड़ा देख - सुनील और नगरिगस दत्त ने संजय दत्त को अमेरिका भेजने का फैसला किया। जहां संजू बाबा को रिहैब में दाखिल कराया गया। संजय दत्त को रिहैब में जब डॉक्टर ने पेपर्स पर उन ड्रग्स पर टिक लगान को कहा, जो उन्होने तब तक ली थी तो संजू ने हर ड्रग के निशान पर टिक लगा दिया।अमेरिका का डॉक्टर हैरान हो गया, उसने सुनील दत्त की ओर हैरानी से देखा और कहा कि आप इंडिया वाले कौन सा ख़ाना खाते हैं । इतने ड्रग्स के बाद तो ज़िंदा बचना ही नामुमकिन है। सुनील द्त उसी वक्त टूट गए थे।पांचवा राज 

संजू में नरगिस का किरदार - मनीषा कोईराला निभा रही हैं... । इस ट्रेलर में नरगिस बनी मनीषा की झलक ही है.. लेकिन फिल्म में वो हिस्सा शामिल किया गया है, जब नरगिस कैंसर से जूझ रही थीं। और अपनी इस बीमारी के बीच वो संजू बाबा को बड़ा स्टार बनते देखना चाहती थी...। रॉकी की रिलीज़ के पहले संजय दत्त वापस तो आ गए... लेकिन अफ़सोस की मां नर्गिस दत्त फिल्म के प्रीमियर से पहले ही चल बसी। 7 मई को फिल्म का प्रीमियर था और 3 मई को ही नर्गिस की डेथ हो गई। नर्गिस हर हाल में फिल्म के में शामिल होना चाहती थी....भले से उन्हें स्ट्रेचर  पर ही क्यों ना ले जाया जाए। इसलिए फिल्म के प्रीमियर पर नर्गिस के लिए एक सीट छोड़ दी गई थी।