'पद्मावती' की रिलीज पर बोले सीएम योगी- हमारा स्टैंड साफ, आखिरी फैसला सेंसर बोर्ड का

नई दिल्ली(21 नवंबर): पद्मावती को लेकर जारी विवाद के बीच उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने फिल्म की रिलीज को लेकर कहा कि हमने इस मसले पर पहले ही अपना स्टैंड साफ कर दिया है। हमने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को इस संबंध में पत्र लिखा है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने भी साफ किया है कि सेंसर बोर्ड को इस फिल्म को लेकर फैसला लेना चाहिए। इससे पहले सोमवार को मध्य प्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों ने भी कहा था कि पद्मावती को लेकर जब तक सभी विवाद खत्म नहीं हो जाते, मूवी को राज्य में रिलीज होने की अनुमति नहीं दी जा सकती। 

संजय लीला भी भंसाली भी जिम्मेदार

 योगी ने कहा कि फिल्म को लेकर हो रहे प्रदर्शनों और धमकियों के लिए संजय लीला भंसाली भी समान रूप से जिम्मेदार हैं, जो जनभावनाओं से खिलवाड़ करने के आदी बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस मसले पर उपद्रवी प्रदर्शनकारियों और फिल्म निर्माताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए। 

योगी ने कहा, 'कानून को हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है। चाहे वह संजय लीला भंसाली हों या कोई और। मुझे लगता है कि धमकी देने वाले दोषी हैं तो भंसाली भी कम दोषी नहीं हैं, जो जनभावनाओं से खिलवाड़ करने के आदी बन चुके हैं।' जान लेने जैसी धमकियों की बाबत पूछे जाने पर योगी ने कहा कि सभी को ऐसे बयानों से परहेज करना चाहिए और एक-दूसरे का सम्मान करना चाहिए। यदि सभी ऐसी भावना रखेंगे तो समाज में सौहार्द स्थापित होगा।  

।