राजपूत सभा की भंसाली ने मानी बातें, 'पद्मावती' में नहीं होगा कोई आपत्तिजनक सीन

नई दिल्ली ( 31 जनवरी ): फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली ने अपनी फिल्म 'पद्मावती' को लेकर राजपूत सेना की बातें स्वीकार कर ली हैं। राजपूत सभा ने एक बयान जारी कर कहा कि भंसाली प्रोडक्शन ने उनकी बातें मान ली हैं हम उनका शुक्रिया अदा करते हैं। उधर भंसाली प्रोडक्शन की टीम ने भी कहा कि अब फिल्म को लेकर कोई दिक्कतें नहीं हैं। भंसाली ने राजपूत सभा को यह आश्वासन भी दिया कि फिल्म के किरदार 'पद्मावती' और अलाउद्दीन के बीच कोई प्रेम प्रसंग या आपत्तिजनक सीन नहीं है।

सभा की तरफ से जारी बयान में कहा, 'आपने हमारी सभी मांगे मान ली हैं इसलिए हम आपका शुक्रिया अदा करते हैं।' आगे कहा गया है कि इस फिल्म में कोई अंतरंग सीन नहीं होगा, यहां तक कि सपने में भी। ऐतिहासिक तथ्य से भी किसी तरह के छेड़छाड़ न करने की बात कही गई है। हालांकि सभा ने फिल्म बनने के बाद एक बार उन्हें दिखाने की मांग जरूर की है। भंसाली की कंपनी की तरफ से इस मांग पर कोई आश्वासन नहीं दिया है।

गौरतलब है कि संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' की शूटिंग के वक्त 'राजपूत करणी सेना' के कुछ सदस्यों ने ऐतिहासिक तथ्य को गलत तरीके से दिखाने का आरोप लगाकर भंसाली और उनकी टीम पर हमला कर दिया था, जिसके बाद कई फिल्मी हस्तियों ने इस घटना की आलोचना की थी।