मंच पर ही भिड़े शिवपाल और अखिलेश

नई दिल्ली ( 24 अक्टूबर ) : सोमवार को बैठक में मुलायम सिंह ने कहा, मैं पार्टी के हालातों को लेकर दुखी हूं। मुलायम सिंह ने अपने भाषण के आखिरी में कहा, शिवपाल तुम्हारे चाचा हैं उनसे गले मिलो। मुलायम ने कहा,  जो अभी उछल रहे हैं, एक लाठी मार दी जाए तो पता नहीं चलेगा, जो अखिलेश के लिए नारा लगा रहे हैं, उन्हें क्या पता हमने क्या लड़ाई लड़ी।  नारेबाजी करने वालों को निकाल देंगे। मुलायम सिंह ने शिवपाल की तारीफ करते हुए कहा, शिवपाल सिंह जनता के नेता हैं। मैं शिवपाल के काम को नहीं भूला सकता। मैं अभी कमजोर नहीं हुआ हूं। मुलायम ने कहा, जो आलोचना नहीं सुन सकता, वो नेता नहीं बन सकता। हमारे एक इशारे पर युवा खड़े हो जाएंगे। ऐसा ना सोचें कि युवा हमारे साथ नहीं है। एक इशारे पर युवा कुछ भी कर देगा। 

मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश यादव से कहा कि शिवपाल तुम्हारे चाचा है उनसे गले मिलो, लेकिन उसके तुरंत बाद शिवपाल और अखिलेश के बीच किसी बात को लेकर जमकर नोक-झोक हो गई। शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव से माइक छिन लिया। शिवपाल ने अखिलेश से कहा, क्यों झूठ बोलते हो।