सलमान को अपने विवादित बयान पर माफी मांगने के लिए मिले 7 दिन

नई दिल्ली (21 जून): सलमान खान द्वारा दिए गए एक बयान के बाद विवाद खड़ा हो गया है। उन्होंने अपनी फिल्म सुल्तान की शूटिंग के बाद एक इंटरव्यू में कहा कि शूटिंग के बाद एक रेप पीड़ित महिला जैसा महसूस होता था, क्योंकि वे सीधे चल नहीं पाते थे। उन्होंने अपने इंटरव्यू में कहा कि शूटिंग के दौरान उन्हें पूरे दिन कई किलो वजन उठाना होता था। 

नेशनल वुमन कमीशन की अध्यक्ष ललिता कुमार मंगलम ने कहा कि आयोग की ओर से सलामन को चिट्ठी लिखी गई है। इसमें उनके बयान को लेकर स्पष्टिकरण मांगा गया है। अगर एनसीडब्लू उनके जवाब से संतुष्टि नहीं मिलती है तो आगे समन भी जारी किया जा सकता है। सलमान को इसके लिए सात दिन का समय दिया गया है।

उन्होंने कहा, 'अगर मैं किसी को उठा रहा हूं तो मुझे 120 किलो के व्‍यक्ति को 10 बार 10 अलग एंगल से उठाना होता था। इसके बाद उसे जमीन पर फेंकना होता था। हकीकत में जब लड़ाई होती है। तो रिंग में ऐसा नहीं होता है। जब मैं शूट के बाद रिंग से बाहर जाता था तो मैं रेप्‍ड महिला की तरह महसूस करता था। मैं सीधा नहीं चल पाता था। मैं खाना खाता और फिर ट्रेनिंग के लिए चला जाता। यह रूका ही नहीं।”

सलमान के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर विवाद हो गया। लोग जमकर उनकी खिंचाई करने में लगे हैं। कुछ ने उनके इस बयान को हॉरिबल बताया तो वहीं कुछ ने कहा कि वो अपना दिमागी संतुलन खो बैठे हैं। लोगों का कहना है सलमान खान शूटिंग के दौरान की गई एक्‍सरसाइज की तुलना किसी रेप पीडि़त महिला से कैसे कर सकते हैं। क्‍या उन्‍हें पता है रेप पीडि़ता महिला पर क्या गुजरती है।