सलमान खान हिरण शिकार मामला: मुख्य गवाह ने बताया जान का खतरा

जयपुर (29 जुलाई): सलमान खान हिरण शिकार मामले में मुख्य गवाह हरीश दुलानी ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर सुरक्षा मांगी है। मिली जानकारी के अनुसार दुलानी ने प्रदेश के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया को पत्र लिखकर खुद की जान को खतरा बताया है।

आपको बता दें कि हरीश दुलानी शिकार वाले दिन यानी 1998 में सलमान खान के ड्राइवर थे। उन्होंने राजस्थान हाईकोर्ट द्वारा सलमान को बरी किए जाने के फैसले पर सवाल उठाया है। इससे पहले हरीश इस मुकदमे की कई सुनवाइयों में गैर-मौजूद रहे थे। उन्होंने कई बार कोर्ट के समन को भी अनदेखा किया था। उनका कहना है कि उन्हें ऐसा मजबूरी में करना पड़ा क्योंकि गवाही देने पर उन्हें धमकियां मिल रही थीं।

एक बार फिर हरीश मीडिया के सामने आए और उन्होंने कहा कि वह अपने उस बयान पर कायम हैं जो उन्होंने 1998 में मैजिस्ट्रेट के सामने दिया था कि सलमान खान ने चिंकारा को मारा था। उन्होंने कहा कि अब अगर उन्हें कोर्ट में बुलाया जाता है तो वह अपना यही बयान दुहराएंगे।

दुलानी ने बताया कि इस केस में गवाह बनने के बाद उन्हें और उनके परिवार को बड़ी मुसीबतों का सामना करना पड़ा। उन्हें और उनके पिता को धमकी भरे कॉल्स आए। उनकी नौकरी छूट गई और उनके माता-पिता का सुख-शांति छिन गई। दुलानी ने इस बात से भी इनकार किया कि बॉलिवुड ऐक्टर को बचाने के लिए उन्हें 'खरीदने' की कोशिशें की गई थीं। उन्होंने कहा,'लोगों ने मेरे बारे में बहुत तरह की बातें की। कुछ ने कहा कि मैं दुबई चला गया हूं। लेकिन सच्चाई तो यह है कि मेरे पास पासपोर्ट तक नहीं है।'