सलाहुद्दीन का इंटरव्यू पाकिस्तान के आतंकवाद फैलाने का सबूत: भारत


नई दिल्ली(4 जुलाई): हाल ही में अमेरिका द्धारा अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किए गए सैयद सलाहुद्दीन के इंटरव्यू पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान को आड़े हाथों लेते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा कि भारत के खिलाफ आतंकवादी हमले करने का सलाहुद्दीन का कबूलनामा निर्लज्जता है। उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ किसी भी जगह और किसी भी समय हमला करने की क्षमता रखने की बात कहना पुष्टि करता है कि पाकिस्तान सीमा पर आतंकवाद फैलाने की नीति जारी रखे हुए है।


- प्रवक्ता ने कहा कि सलाहुद्दीन का पाकिस्तान से इस तरह की गतिविधियों में मदद पहुंचाने की बात मानना इस बात को साबित करता है कि पाकिस्तान का सरकारी ढांचा भी इसमें शामिल है। यह सरकारी ढांचा अपने पड़ोसियों के खिलाफ आतंकवादियों को प्रॉक्सी के तौर पर नीतिगत रूप से इस्तेमाल करता है।


- विदेश मंत्रालय ने कहा कि यह इंटरव्यू इस बात को दिखाता है कि पाकिस्तान में आतंकवादी संगठनों और उनके नेताओं को किस तरह से खुलकर काम करने की आजादी है। आतंक फैलाने के लिए उन्हें रकम मिलती है और उन्हें हथियारों की सप्लाई भी की जाती है।


- प्रवक्ता ने कहा कि यह काफी दुखद विषय है कि पाकिस्तान में बड़े पदों पर बैठे लोग इसे जायज ठहरा रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर घोषित उन आतंकवादी संगठनों और उनके नेताओं की गतिविधियों का बचाव कर रहे हैं, जो पिछले तीन दशकों में हजारों मासूम नागरिकों की हत्याओं के जिम्मेदार हैं।


- भारत ने कहा कि पाकिस्तान को सीमा पार आतंकवाद फैलाने की नीति छोड़नी होगी। उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किए गए वादों को निभाना होगा। पाकिस्तान को अपनी धरती पर चलाए जा रहे आतंकवादी गतिविधियों को पूरी तरह से रोकना होगा।