यूपी में भगवा और केसरिया रंगो के कपड़ों की बढ़ी मांग

लखनऊ (22 मार्च): उत्तर प्रदेश में जब से BJP की सरकार सत्ता में आई है, अचानक भगवा और केसरिया रंगों कपड़ों की मांग बढ़ गई है। आलम ये है कि जब से अदित्यनाथ योगी राज्य के मुख्यमंत्री बने हैं तब से भगवा और केसरिया रंगों के थान की कमी हो गई है।


यहां के कपड़ा व्यापरियों का कहना है कि इन दिनों 60 रुपए मीटर से 400 रुपए मीटर तक के थान कपड़ा बहुतायत और तेजी में बिक रहा है, जिसके पीछे कारण सीएम योगी ही हैं। इन लोगों का कहना है कि जब मोदी प्रधानमंत्री बने थे। मार्केट में उनकी तरह की जैकेट खरीदने की होड़ मच गई थी, मोदी ने ही खादी के वस्त्रों को वापस फैशन जगत में जिंदा किया है, देखते हैं ये भगवा रंग का असर लोगों पर कितने दिन रहेगा।


महिलाएं भी इस रेस में पीछे नहीं हैं, जो मार्डन महिलाएं ऑरेंज रंग के सिंदूर को केवल पूजा-पाठ में लगाती थीं उन्होंने अब इसे फैशन ट्रेंड मानते हुए खुलकर और रोज लगाना शुरू कर दिया है। कॉलेज जाने वाली छात्राओं पर भी केसरिया सुरूर चढ़ा है जिसके चलते वो अब केसरी रंग के दुपट्टे को तरजीह दे रही हैं।