भारतीयों पर हमले पर सुषमा ने कहा, राष्ट्रीय हितों से समझौता नहीं

नई दिल्ली ( 20 मार्च ): विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अमेरिका में रह रहे भारतीयों और भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा को सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता बताया है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को राज्यसभा में आश्वासन दिया कि भारतीयों पर हुए हमलों की घटनाओं को अमेरिकी प्रशासन के समक्ष विभिन्न स्तरों पर उठाया गया है और इस संबंध में चल रही जांच पर सरकार नजर बनाए हुए है। इतना ही नहीं विदेश मंत्री ने जोर देकर कहा है कि अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी के लिए राष्ट्रीय हितों से समझौता नहीं किया जाएगा।


विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ‘‘अमेरिका में रह रहे भारतीय मूल के लोगों और उनके विरूद्ध वैमनस्यपूर्ण अपराधों’’ के संबंध में आज उच्च सदन में अपनी ओर से दिए एक बयान में कहा ‘‘मैं इस सदन और सदस्यों को आश्वस्त करना चाहूंगी कि विदेशों में बसे भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा तथा संरक्षा हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।’’


सुषमा ने गत 22 फरवरी को अमेरिका के कन्सास में 32 वर्षीय भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचीभोतला की अमेरिकी नागरिक द्वारा गोली मारकर हत्या, दो मार्च को भारतीय मूल के हर्निश पटेल पर हमले और चार मार्च को भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक दीप राय पर हमले की घटनाओं का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इन घटनाओं के बाद विभिन्न स्तरों पर अमेरिकी प्रशासन से बात की गई। उन्होंने कहा कि उन्होंने पीड़ितों के परिवारों से भी बात की थी।


सुषमा स्वराज ने कहा कि हम अमेरिकी सरकार के साथ लगातार बातचीत कर रहे हैं। किसी भी आपातकालीन मुद्दे के समाधान के लिए हमारे दूतावास तथा वाणिज्य महादूतावास स्थानीय भारतीय समुदायों के साथ संपर्क में हैं। हम विदेशों में रहने वाले भारतीयों के जीवन को प्रभावित करने वाली किसी भी गतिविधि के प्रति सतर्क रहेंगे और उनके हितों की रक्षा के लिए हरसंभव कार्य करेंगे।