ड्रग्स-शराब के खिलाफ केरल सरकार के कैंपेन का हिस्सा बनेंगे सचिन

नई दिल्ली (1 जून): क्रिकेट आइकन सचिन तेंदुलकर केरल की लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) सरकार के आग्रह पर अपने नाम का इस्तेमाल ड्रग और शराब के खिलाफ राज्य में एक अभियान के लिए इस्तेमाल करने के लिए तैयार हो गए हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, तिरुवनंतपुरम में बुधवार को राज्य सचिवालय में तेंदुलकर ने मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन से मुलाकात की। उनके अलावा केरल ब्लास्टर्स फुटबॉल क्लब (केबीएफसी) के दो अन्य को-ओनर भी मौजूद रहे। 

उन्होंने बताया, "तेंदुलकर ने शराब और ड्रग के इस्तेमाल के खिलाफ अभियान को मजबूती देने के लिए अपने नाम के इस्तेमाल के लिए सहमति दे दी है। वह अभियान के साथ सहयोग करने के लिए तैयार हो गए हैं।"

जब उनसे पूछा गया कि क्या तेंदुलकर अभियान के लिए राज्य के अम्बेसडर बनेंगे। इसपर विजयन ने कहा कि इन सभी बातों पर बाद में चर्चा की जाएगी।

विजयन ने यह भी कहा कि केबीएफसी राज्य में आवासीय फुटबॉल एकेडमी बनाने के लिए तैयार हो गया है। जिससे राज्य में नए टैलेंट को ट्रेन किया जा सके।

इस मौके पर एक्टर से राजनेता बने चिरंजीवी, नागार्जुन और प्रसाद भी मौजूद रहे। ये दोनों ही केबीएफसी के को-ओनर्स हैं। इसके अलावा राज्य के खेलमंत्री ईपी जयराजन, वित्तमंत्री टीएम टॉमस भी थे।