Blog single photo

सचिन तेंदुलकर बोले- भारत-पाक मैच होना चाहिए, बिना खेले 2 पॉइंट क्‍यों दें

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश से आवाज उठ रही है कि भारत को वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से होने वाले मैच का बहिष्कार करना चाहिए।अब इसी मुद्दे पर सचिन तेंदुलकर ने अपनी राय रखी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 फरवरी):  जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश से आवाज उठ रही है कि भारत को वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से होने वाले मैच का बहिष्कार करना चाहिए। अब इसी मुद्दे पर सचिन तेंदुलकर ने अपनी राय रखी है। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि भारत को मैच का बहिष्कार नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे पाकिस्तान को फायदा होगा।

न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए सचिन ने कहा, "मुझे वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से मैच न खेलकर उन्हें दो अंक दिलाने से नफरत होगी, क्योंकि इससे उन्हें मदद मिलेगी। वर्ल्ड कप में भारत ने हमेशा पाकिस्तान को हराया है। इस बार फिर उन्हें हराने का वक्त है, मुझे पर्सनली पाकिस्तान से न खेलकर उन्हें दो अंक देकर उनकी मदद करने से नफरत होगी। 

सचिन से पहले सौरव गांगुली ने कहा कि सिर्फ क्रिकेट ही नहीं बल्कि पाकिस्तान के साथ सभी खेलों में संबंध खत्म होने चाहिए। पूर्व कप्तान गांगुली ने टीम इंडिया के अपने पूर्व साथी हरभजन सिंह का समर्थन करते हुए कहा कि विश्व कप के एक मैच में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने से भारत की संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। 

गांगुली से पहले गेंदबाज हरभजन सिंह ने था कि भारत को विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच नहीं खेलना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले के बाद माहौल अलग है, हम पहले भारतीय हैं और उसके बाद क्रिकेटर हैं. एक तरफ आपके जवानों पर हमला हो और दूसरी ओर आप उसी मुल्क के साथ क्रिकेट खेलें, यह नहीं हो सकता। 

वहीँ पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने भी वही बात कही जो सचिन ने कही। गावस्कर ने कहा कि भारत अगर वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के साथ मैच नहीं खेलता है तो नुकसान उसे ही होगा। गावस्कर ने कहा, 'अगर हम पाकिस्तान से वर्ल्ड कप में मैच नहीं खेलते हैं, तो हम हारे हुए कहलाएंगे और उन्हें 2 अंक दे बैठेंगे. इसलिए सबसे अच्छा तरीका यह होगा कि विश्व कप में अब उनके साथ खेलकर उन्हें हरा दें। 

Image:Google

NEXT STORY
Top