अब सुब्रमण्यन स्वामी ने केजरीवाल के IIT एडमिशन पर उठाया सवाल, कहा...

नई दिल्ली (25 जून): भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। स्वामी ने शनिवार को आरोप लगाया कि केजरीवाल प्रतियोगी परीक्षा के माध्यम से इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलॉजी, खड़गपुर (आईआईटी) में नहीं गए थे। इसके अलावा उनके पास यूनिवर्सिटी से कोई रैंक भी नहीं मिली। 

'इंडियन एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के मुताबिक, स्वामी ने कहा, "केजरीवाल के आईआईटी एंट्रैंस के बारे में आरटीआई डाली गई। जिसके जवाब के मुताबिक ये सामने आया है कि केजरीवाल प्रतियोगी परीक्षा के जरिए आईआईटी में नहीं आए थे। आरटीआई के आखिरी कॉलम से पता चलता है कि केजरीवाल को कोई रैंक नहीं मिली। इससे साफ हो जाता है कि वह किसी और तरीके से वहां आए।"

स्वामी ने कहा कि 1952 में जब इंस्टीट्यूट बना तब प्रवेश मार्क्स के ऑर्डर के हिसाब से नहीं दिया जाता था। स्वामी ने कहा कि सीट्स का बंटवारा गैरकानूनी तरीके से आईआईटी खड़गपुर के मैनेजिंग बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्यों की तरफ से किया जाता था। जिसे सरकार ने 2005 में रोक दिया।

स्वामी ने आरोप लगाते हुए कहा, "जो व्यक्ति गरीबों के विशेषाधिकारों से वंचित किए जाने की बात करता है। वह खुद ऐसे विशेषाधिकारों का एक प्रोडक्ट है, वह इनका मालिक नहीं थे। उन्हें इसे स्वीकार करने की हिम्मत करनी चाहिए। मैं मिस्टर केजरीवाल से कहता हूं कि वे इसपर स्पष्टीकरण दें। क्या वे मेरिट के जरिए आईआईटी में आए या उन्हें ये सब चालबाजी से मिला।"

गौरतलब है, ये आरोप केजरीवाल की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्रियों को लेकर लगातार विवाद पैदा करने के बाद आया है।