प्रद्युम्न मर्डर केस: ड्राइवर ने बताया, बस पार्क करने के बाद गायब था कंडक्टर

नई दिल्ली(12 सितंबर): रेयान इंटरनैशनल स्कूल में 7 साल के बच्चे की हत्या के मामले में आरोपी कंडक्टर को गिरफ्तार किया गया है। स्कूल बस के ड्राइवर सौरभ ने उस दिन की घटना के बारे में कुछ हैरान करने वाली बातें बताई हैं।

-  उन्होंने बताया कि सुबह करीब 7:50 पर बस पार्क करने के बाद पता ही नहीं चला कि आरोपी कंडक्टर अशोक कहां चला गया। बता दें कि लगभग 8:30 बजे टॉइलट में खून से लथपथ प्रद्युम्न का शव मिला था। 

- ड्राइवर ने बताया, 'मैं पिछले कुछ महीनों से कंडक्टर अशोक जानता हूं। मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि वह ऐसा कर सकता है।' बता दें कि हत्या के चंद घंटे के भीतर आरोपी की गिरफ्तारी, चाकू की बरामदगी, हत्या का मकसद और मीडिया के सामने आरोपी का कबूलनामा सबकुछ सामने आ गया। इससे पुलिस की थिअरी पर भी सवाल खड़े हुए। ड्राइवर ने कहा कि बस में कोई चाकू नहीं था। 

- सौरभ ने बताया, 'टूल बॉक्स में इस तरह का कोई चाकू नहीं रखा जाता है। बस में भी हम चाकू नहीं रखते थे। हमें फल खाने का भी कोई ज्यादा शौक नहीं है।' हालांकि पुलिस का कहना है कि 7 साल का बच्चा जैसे ही स्कूल गया वह बाथरूम में गया और वहां बस कंडक्टर मौजूद था। कंडक्टर बाथरूम में मास्टरबेट कर रहा था और उसने टीचर से शिकायत करने की बात कही, तब कंडक्टर ने चाकू से उसकी गला काटकर हत्या कर दी और वहां चाकू फेंककर निकल गया। बाद में उसे सीसीटीवी कैमरे में संदिग्ध परिस्थिति में उसे देखा गया और गिरफ्तार कर लिया गया। मौके से चाकू बरामद कर लिया गया। 

- इस मामले में स्कूल के स्टूडेंट्स के पैरंट्स से बात करने पर यह बात भी सामने आई है कि प्रद्युम्न से पहले तीन और बच्चों ने आरोपी असोक को वॉशरूम में देखा था। उनके वॉशरूम जाते ही अशोक ने डांटकर भगा दिया।