'भारत के हितों को नुकसान पहुंचाने वाला कोई काम रूस नहीं करेगा'

नई दिल्ली (15 अक्टूबर): भारत-रूस के बीच 17वें शिखर सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि रूस भारत के हितों को नुकसान पहुंचाने वाला कोई भी काम नहीं करेगा।

इसके अलावा पुतिन ने यह भी कहा है कि सीमा पार से आतंकी गतिविधियों निपटने में भारत के प्रयास सरहानीय हैं। इसके साथ ही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्वजनिक तौर पर कहा कि दो नये दोस्तों से ज्यादा महत्वपूर्ण एक पुराना दोस्त होता है। मोदी के इस कथन को रूस के राष्ट्रपति ने खास तौर पर सराहा।