चुनौतियों के बावजूद एडवांस्ड प्लेन्स से अमेरिका पर सर्विलांस करेगा रूस!

नई दिल्ली (23 फरवरी): रूस सोमवार को अमेरिका के ऊपर सर्विलांस प्लेन्स के उड़ान भरने के लिए अनुमति मांगने जा रहा है। जिनमें हाई-पॉवर्ड डिजिटल कैमरे लगें होंगे। रूस अमेरिकी खुफिया और सैन्य अधिकारियों की चुनौतियों के बाद भी ऐसा कदम उठाने जा रहा है। जिसमें कहा जा रहा है कि ऐसी उड़ानों से रूस को अमेरिका की खुफिया जानकारियां हासिल होने में मदद मिलेगी।

'फॉक्स न्यूज' की रिपोर्ट के मुताबिक, रूस और अमेरिका ने ओपन स्काईस संधि पर दस्तखत किए हैं। जो 34 सदस्य देशों की सीमाओं पर बिना-हथियारों वाली ऑब्जर्वेशन फ्लाइट्स को उड़ान भरने के लिए मंजूरी देती है। जिससे सैन्य गतिविधियों के साथ ऑर्म्स कंट्रोल और दूसरे समझौतों को मॉनीटर करने में पारदर्शिता बनाई रखी जा सके। हालांकि, सीनियर खुफिया और सैन्य अधिकारियों को चिंता सता रही है कि रूस संधि की भावना का उल्लंघन करते हुए अपनी तकनीकी क्षमता का इस्तेमाल कर रहा है।

रूस वियना के ओपन स्काईस कन्सल्टेटिव कमिशन से औपचारिक तौर पर उड़ान भरने के लिए मंजूरी मांगने जा रहा है। जिससे हाई-टेक सेंसर्स वाले एयरक्राफ्ट्स अमेरिका के ऊपर उड़ान भरेंगे। एक सीनियर कॉन्ग्रैशनल स्टाफर ने गोपनीयता की शर्त पर इसके बारे में जानकारी दी है। क्योंकि स्टाफ मेंबर्स को इस मुद्दे पर सार्वजनिक तौर पर बातचीत करने की अथॉरिटी नहीं है।