रूस ने अपने सभी 'रासायनिक हथियारों' को किया नष्ट

नई दिल्ली (28 सितंबर): रूस ने अपनी आखिरी रासायनिक युद्ध सामग्री को देश के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र में पूरी तरह से नष्ट करेगा। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इसकी घोषणा की है। रासायनिक निरस्त्रीकरण के स्टेट कमिशन के अध्यक्ष मिखाइल बाबिच ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को बताया कि रासायानिक हथियारों को नष्ट करने की प्रक्रिया को तय समय से पहले ही पूरा कर लिया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने इस मौके पर बताया, ‘हम कह सकते हैं कि यह यकीनन एक ऐतिहासिक क्षण है।’

मिखाइल के अनुसार, विशेषज्ञों का कहना है कि रासायनिक हथियारों का भंडार पृथ्वी पर मानव जीवन को कई बार नष्ट कर सकता है। पुतिन ने कहा, ‘आधुनिक विश्व को अधिक संतुलित और अधिक सुरक्षित बनाने की दिशा में यह बहुत ही बड़ा कदम है।’ पुतिन ने याद करते हुए कहा कि रासायनिक हथियार समझौते (CWC) पर हस्ताक्षर करने वाला रूस पहला देश था। उन्होंने कहा कि रूस ने अपने अंतर्राष्ट्रीय दायित्वों को पूरा किया है। रूस ने सितंबर महीने के अंत तक रासायनिक हथियारों का जखीरा पूरी तरह से खत्म करने की बात कही थी।

मिखाइल के मुताबिक, मार्च 2017 में पूरी दुनिया में 70,500 टन रासायनिक हथियार थे जिनमें रूस के पास 40,000 टन और अमेरिका के पास 27,000 टन हथियार थे।