पाक से युद्धाभ्यास पर भारत ने रूस को कड़ें शब्दों में चेताया

नई दिल्ली (11 अक्टूबर): भारत ने अपने पुराने दोस्त रूस को कड़े शब्दों में चेतावनी दी है। भारत ने रूस से कहा है कि आतंकवाद के प्रायोजक पाकिस्तान के साथ युद्धाभ्यास और सैन्य सहयोग एक भयंकर गलत सोच और रणनीति है। इससे भविष्य में परेशानी पैदा होंगी। रूस में भारत के राजदूत पंकड सरन ने यह बात रूसी न्यूज एजेंसी रिया नोवोस्ती को एक दिये एक साक्षात्कार में कही।

सितंबर में पाकिस्तान और रूस के संयुक्त युद्धाभ्यास के बाद भारत की तरफ से पहली बार इतना सख्त संदेश रूस को दिया गया है। यह बयान इसलिए और भी महत्वपूर्ण हो जाता है क्यों कि रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन और भारतीय प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच वार्षिक शिखर वार्ता इसी महीने 15 तारीख को होने वाली है। ऐसा समझा जा रहा है दोनों नेता क्रॉल बॉर्डर टेररिज्म पर चर्चा करेंगे।