ग्रामीण इलाकों में भी बढ़ा डीजिटल लेनदेन, पहली छमाही में 250 फीसदी की बढ़ोतरी

नई दिल्ली (14 नवंबर): नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार की ओर से देश में कैश के कम से कम इस्तेमाल के लिए डीजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के मुहिम का असर अब ग्रामीण इलाकों में भी दिखने लगा है। इस आंकड़े के मुताबिक ग्रामीण इलाकों में भी लोग अब डीजिटल पेमेंट के जरिए लेनदेन कर रहे हैं।

राष्ट्रीय भुगतान निगम की ओर से जारी आंकड़े मुताबिक वित्तिय वर्ष 2018 के पहले छमाही में इसमें 250 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है जो करीब 8400 करोड़ है। जबकि पिछले साल कुल 2282 करोड़ का ट्रांजेक्शन हुआ था। वहीं सितंबर तक AEPS ट्रांजेक्शन करने वालों की तादाद में 4 करोड़ 13 लाख पहुंच चुकी है। जो पिछले साल के मुकाबले 150 फीसदी अधिक है। पिछले साल  ट्रांजेक्शन करने वालों की तादाद में 1 करोड़ 63 लाख थी।