जब्त किए 100 करोड़ का क्या होगा, जानिए

नई दिल्ली(20 दिसंबर): नोटबंदी के बाद से प्रवर्तन निदेशालय, आयकर विभाग, सीबीआइ और पुलिस ने अरबों रुपये के नए नोट जब्त किए हैं। अब सवाल उठता है कि इन रुपयों का क्या होगा? बता दें कि जब्त किए गए नए नोट फिर से सर्कुलेशन में लाए जाएंगे।

- इस बात की पुष्टि प्रवर्तन निदेशालय ने कर दी है। प्रवर्तन निदेशालय की जोनल इकाइयों को एक निर्देश जारी किया है कि जब्त किए गए सभी नोट प्रवर्तन निदेशालय के अलग-अलग खातों में जमा कर दिए जाएं, जिससे कि इस करेंसी को सर्कुलेशन में लाया जा सके।

- प्रवर्तन निदेशालय के निदेशक करनैल सिंह ने सोमवार को कहा कि उन्होंने एक सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि जब्त की गई करेंसी को हमारे बैंक खातों में जमा किया जाए, जिससे कि ये नोट सर्कुलेशन में आ सकें और आम जनता तकलीफ से बच सके।

- इसके साथ ही सरकार ने आयकर विभाग को निर्देश दिए हैं कि वो भी जब्त की गई करेंसी को बैंक में जमा करे। इससे पहले एजेंसी ने ये रुपये सुबूत के तौर अपने लॉकर में रखे हुए थे।

- आयकर विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि कभी-कभी विभाग को केस को सुलझाने में सालों साल लग जाते हैं तो ऐसे में वो रुपया या सोना आयकर विभाग के लॉकर में रखा रहता है। केस सुलझने के बाद इसको भारत के संचित कोष में डाल दिया जाता है। पता हो कि नोटबंदी के बाद आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय, सीबीआइ और पुलिस ने अरबों के नए नोट और सोना जब्त किया और ये सिलसिला लगातार जारी है।