बलूचिस्तान और PoK पर PM के बयान से RSS और VHP खुश

नई दिल्ली (19 अगस्त): लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बलूचिस्तान और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) पर की गई टिप्पणी से आरएसएस और वीएचपी के नेता खुश नजर आ रहे हैं। आरएसएस प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने ईटी को बताया, '1994 में नरसिम्हा राव के प्रधानमंत्रित्व काल में संसद में प्रस्ताव पास कर कहा गया था कि जम्मू-कश्मीर भारत का अटूट हिस्सा है। इस पर पीछे हटने का सवाल ही नहीं उठता। मसला सिर्फ उस क्षेत्र को वापस हासिल करने का है।'

गौरतलब है कि गौरक्षकों को लेकर दिए गए मोदी के बयान से संघ और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के नेता नाराज थे। लेकिन बलूचिस्तान और पीओके पर मोदी के बयान के बाद से आरएसएस और वीएचपी खेमे में राहत दिखाई दे रही है।