500 नये गुरुकुल खोलेगा आरएसएस

नई दिल्ली (3 मई): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अब भारतीय शिक्षा प्रणाली को दुरूस्त करने के लिए कई और प्रयोगों पर विचार कर सकता है। आरएसएस से संबद्ध भारतीय शिक्षण मंडल (बीएसएम) वर्तमान में चल रहे 1000 गुरुकुलों को बेहतर करने और 500 नए गुरुकुल शुरू करने पर विचार कर रहा है। बीएसएम का मनना है कि इस पद्धति से ही भारत वर्ष के गौरव को बचाया जा सकता है।

इन गुरुकुलों की शुरुआत गुजरात से ही होगी। बीएसएम का मनना है कि गुरुकुल का धर्म से कोई लेना-देना नहीं है। इसका मकसद छात्रों को शुद्ध भारतीय शिक्षण पद्धति से तैयार करना है। अहमदाबाद के साबरमती में हेमचंद्राचार्य संस्कृत गुरुकुलम में शिक्षा की गुरुकुल प्रणाली को पुनर्जीवित करने के लिए पूरे भारत के लिए एक योजना बनाने के लिए वर्कशॉप की गई। सात दिन की इस कार्यशाला का उद्देश्य गुरुकुलों पद्धति का ब्लू प्रिंट बनाना था। बीएसएम का मनना है कि गुरुकुल शुरू करने से पहले ट्रेंड टीचर्स होना जरूरी है।