आरएसएस ने शुरू की नई यूनिफार्म की ब्रिकी

नागपुर (29 अगस्त): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने नागपुर मुख्यालय में अपनी नई यूनिफार्म बेचनी शुरू कर दी है। आरएसएस ने इसी साल मार्च में अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में अपनी ड्रेस से खाकी निकर को हटाने का फैसला लिया था।

विजयादशमी के मौके पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में संघ के स्वयंसेवक फुल पैंट में नजर आएंगे। दशकों से आरएसएस की पहचान रहे खाकी हाफ पैंट को बदलने को लेकर बीते कई सालों से संघ के भीतर मंथन चल रहा था। 1925 में संघ की स्थापना के वक्त से ही खाकी निकर उसकी ड्रेस में शामिल रहा है।

मार्च में ड्रेस बदलने का ऐलान करते हुए संघ के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने कहा था कि ब्राउन कलर अच्छा दिखता है और आसानी से उपलब्ध हो सकता है, इसलिए इसे चुना गया। जोशी ने कहा कि सामान्य जीवन में फुल पैंट चलती है, इसलिए हमने इसे स्वीकार किया है।

गौरतलब है कि आरएसएस का एक बड़ा वर्ग लंबे समय से हाफ पैंट को ड्रेस से हटाने की मांग करता रहा है। संघ में एक धड़ा मानता था कि इससे प्रफेशनल युवाओं को जुड़ने में झिझक महसूस होती है।