'राष्‍ट्रपति पद के लिए भागवत का नाम आगे कर शिवसेना ने 'गलत नंबर' डायल कर दिया'


नई दिल्ली(17 जून): शिवसेना द्वारा राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत का नाम राष्‍ट्रपति पद के उम्‍मीदवार के लिए आगे करने के बाद दक्षिणपंथी संगठन ने शनिवार को कहा कि शिवसेना ने गलत नंबर डायल कर लिया है।


- महाराष्ट्र और केंद्र में भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी शिवसेना ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत का नाम रखा है।


- शिवसेना प्रमुख ने उद्धव ठाकरे ने कहा, 'राष्ट्रपति पद के लिए मोहन भागवत हमारी पहली पसंद हैं, लेकिन अगर किसी को इस पर आपत्ति है तो हम एमएस स्वामीनाथन के नाम प्रस्ताव रखते हैं।'


- आरएसएस के विचारक राकेश सिन्‍हा ने बताया, ‘सबसे पहले मैं शिवसेना को इस बात के लिए शुक्रिया कहूंगा कि उन्‍होंने मोहन भागवत में अपना विश्‍वास और भरोसा दिखाया लेकिन पार्टी ने यह गलत नंबर डायल कर लिया है। मोहन भागवत का कद, उनके व्यक्तित्व और दार्शनिक शासन में एक सभ्यता और सांस्कृतिक आयाम है। इसलिए, मुझे नहीं लगता कि आरएसएस प्रमुख राष्ट्रपति के लिए एक विकल्प हो सकते हैं।‘


- उन्‍होंने आगे कहा कि आरएसएस प्रमुख ने खुद ही इस पेशकश को ठुकरा दिया था।


- बता दें कि शिवसेना ने राष्ट्रपति पद के लिए सबसे पहले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के नाम का ही प्रस्ताव रखा था, लेकिन इस पर संघ प्रमुख ने कोई खास रूचि नहीं दिखाई।