Blog single photo

भागवत को मिला सिंघवी का साथ, बोले-देश के लिए जेल गए थे सावरकर!

सावरकर के मुद्दे पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को अब कांग्रेसी नेता का भी साथ मिलता दिख रहा है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि सावरकर शानदार व्‍यक्तित्‍व के धनी थे

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 अक्टूबर):  सावरकर के मुद्दे पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को अब कांग्रेसी नेता का भी साथ मिला है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि सावरकर शानदार व्‍यक्तित्‍व के धनी थे और उन्‍होंने देश के स्‍वतंत्रता आंदोलन में हिस्‍सा लिया था। सिंघवी ने कहा कि सावरकर ने दलितों के अधिकारों की लड़ाई लड़ी थी और देश के लिए जेल भी गए थे। 

अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, 'मैं निजी तौर पर सावरकर की विचारधारा को प्रमाणित नहीं कर रहा हूं लेकिन इससे यह तथ्‍य खत्‍म नहीं हो जाता है कि वह एक शानदार व्‍यक्तित्‍व के धनी व्‍यक्ति थे। उन्‍होंने हमारे स्‍वतंत्रता संग्राम में हिस्‍सा लिया, दलितों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़े और देश के लिए जेल भी गए। कभी नहीं भूलें।'

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह 7 बजे से वोट डाले जा रहे हैं। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने भी वोटिंग शुरू होते ही नागपुर में अपना वोट डाला। वह सुबह 7 बजते ही महल स्थित एक मतदान केंद्र पर पहुंचे और मताधिकार का इस्तेमाल किया। बाद में उन्होंने सावरकर को भारत रत्न दिए जाने मांग को लेकर कांग्रेस द्वारा RSS पर निशाना साधने को राजनीति करार दिया।

उन्होंने साफ कहा, 'हमें 90 साल से निशाना बनाया जाता रहा है, हमें इसकी आदत है इसलिए कोई चिंता की बात नहीं है। यह राजनीति है इसमें सब चलता है। समाज तो एक है और हमेशा एक रहने वाला है इसे सबको ध्यान में रखना चाहिए।' मोहन भागवत ने लोगों से बढ़-चढ़कर मतदान में हिस्सा लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अपने जनप्रतिनिधियों को चुनना नागरिकों की जिम्मेदारी है। उन्होंने आगे कहा, 'हम तो 100 वोटिंग पर जोर देते हैं। मुद्दों पर वोट कीजिए, व्यक्ति या माहौल पर नहीं।'

Tags :

NEXT STORY
Top