500 और 2000 रुपये के नोटों की कोई जरुरत नहीं, 100-200 के नोट ही काफी: चंद्रबाबू नायडू

नई दिल्ली(2 सितंबर): आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को कहा कि 2000 रुपए और 500 रुपए के नोटों की कोई जरुरत नहीं है। उन्होंने कहा कि 200 रुपए और 100 रुपए के नोट ही काफी हैं। 

- एक संवाददाता सम्मेलन में नायडू ने कहा कि हमें 2,000 और 500 रुपये के नोटों की आवश्यकता नहीं है। छोटे नोट (200 और 100 रुपये) पर्याप्त हैं हमें ऑनलाइन लेनदेन के लिए एक बड़े पैमाने पर जाना होगा। 

- भाजपा के सहयोगी नायडू विशेष रूप से 2000 और 500 रुपये नोटों के उन्मूलन की मांग नहीं करते, लेकिन उन्होंने कहा कि उनकी अनुपस्थिति में "चुनावों के दौरान पैसे का वितरण" होगा।

- संयोग से, नायडू ने पिछले साल 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 1000 और 500 रुपये के नोटों को बंद करने के फैसले का स्वागत किया था। 

- इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नाइडू को डिजिटल इकॉनमी पर सुझावों के लिए गठित मुख्यमंत्रियों के पैनल का मुखिया बनाया। 

- नायडू ने कहा कि यदि 2,000 रुपये और 500 रुपये नोट नहीं होंगे, तो चुनाव में पैसे का वितरण कम हो जाएगा। और ऑनलाइन लेनदेन को प्रोत्साहित करके भ्रष्टाचार पर रोक लग जाएगी।