रोहित शेखर की हत्या के आरोप में पत्नी अपूर्वा शुक्ला गिरफ्तार, पुलिस को मिले सबूत

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 अप्रैल): उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस ने रोहित की पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आज दोपहर तीन बजे इस मामले को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। बता दें रविवार को पुलिस ने अपूर्वा शुक्ला और घर के दो नौकरों को हिरासत में लिया था। शनिवार रात को भी क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने अपूर्वा से करीब 8 घंटे तक पूछताछ की थी।गौरतलब है कि स्व. एनडी तिवारी की पत्नी और रोहित शेखर की मां उज्जवला ने शुक्रवार को कहा था कि उनके बेटे और बहू अपूर्वा के बीच रिश्ते अच्छे नहीं थे। उन्होंने कहा था कि यह मेरे लिए झटके से कम नहीं है। मैं विश्वास नहीं कर पा रही हूं कि मेरे बेटे की हत्या की गई है। उन्होंने कहा कि ऐसा क्या था जो रोहित दोपहर में 4 बजे तक सोता रहा, शेखर और उसकी पत्नी के बीच शादी के पहले ही दिन से विवाद थे।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक रोहित की पत्नी अपूर्वा लगातार इस मामले में बयान बदल रही थी। उससे सारा शक उसी के इर्ग-गिर्द आकर ठहर जाता था। वारादत वाली रात को लेकर अपूर्वा ने अब तक तीन अलग-अलग बयान दिए। जिसकी वजह से पुलिस का शक पुख्ता होने लगा था। पुलिस वारदात के बाद से रोहित की पत्नी समेत घर के 6 लोगों से पूछताछ कर रही थी। 

पुलिस ने अपूर्वा का ब्लड सेंपल और घटनास्थल पर पाए गए खून के नमूने भी लिए थे। जिसे परीक्षण के लिए भेजा गया है। अपूर्वा ने सबूत मिटाने के लिए अपना मोबाइल तक फार्मेट कर दिया था और जिस कमरे में रोहित की हत्या हुई वहां के सीसीटीवी कैमरे खराब होना भी इस बात की तस्दीक करता था कि हत्या में कोई बाहरी व्यक्ति नहीं, घर का ही कोई शख्स शामिल था। अपूर्वा के बयानों के अनुसार उसके और रोहित के बीच में हाथापाई के दौरान दोनों ही एक दूसरे को मारने की कोशिश कर रहे थे. जिसमें अपूर्वा कामयाब हो गई। 

गौरतलब है कि मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के मुताबिक अब तक की तफ्तीश यही इशारा कर रही थी कि कातिल घर का ही है। हालांकि पुलिस अब तक कई किश्तों में घंटों रोहित की पत्नी अपूर्वा, रोहित के भाई सिद्धार्थ और घर के नौकर और ड्राइवर से पूछताछ कर चुकी थी। मगर कातिल का नाम उजागर करने से पहले वो कत्ल की सारी कड़ियों को जोड़ लेना चाहती थी।